comScore

आईएसएल-6 : रॉय कृष्णा ने हैदराबाद एफसी के खिलाफ एटीके को हार से बचाया

आईएसएल-6 : रॉय कृष्णा ने हैदराबाद एफसी के खिलाफ एटीके को हार से बचाया

हाईलाइट

  • दो बार के चैम्पियन एटीके के खिलाफ 2-2 से ड्रॉ से संतोष करना पड़ा

डिजिटल डेस्क, हैदराबाद। एक नाटकीय मुकाबले में हैदराबाद एफसी को जीएमसी बालायोगी स्टेडियम में शनिवार को खेले गए हीरो इंडियन सुपर लीग (ISL) के अपने नौवें दौर के मुकाबले में दो बार के चैम्पियन एटीके के खिलाफ 2-2 से ड्रॉ से संतोष करना पड़ा। इस रोमांचक मैच के 85वें मिनट तक दोनों टीमें 1-1 की बराबरी पर चल रही थीं, लेकिन डेविसन रोजेरियो दा सिल्वा उर्फ बोबो ने 85वें मिनट में हेडर के जरिए गोल करते हुए हैदराबाद को 2-1 से आगे कर दिया था।

हैदराबाद टीम अपनी जीत का जश्न मनाने की तैयारी में थी लेकिन इसी बीच उसके गोलकीपर कमलजीत सिंह ने 90वें मिनट में ऐसी गलती की, जो उसे भारी पड़ गई। उनकी गलती का फायदा उठाकर रॉय कृष्णा ने गोल करते हुए एटीके को 2-2 से बराबरी दिला दी। इस गोल में जावी हर्नादेज ने कृष्णा की मदद की। यह इस सीजन में कृष्णा का आठवां गोल है।

बोबो के गोल के बाद लगा कि हैदराबाद एफसी कोलकाता में मिली 0-5 की हार का हिसाब बराबर कर लेगी लेकिन किस्मत ने उसका साथ नहीं दिया। दोनों टीमों का यह नौवां मुकाबला था। दो बार की चैम्पियन एटीके चार जीत, दो हार और तीन ड्रॉ से 14 अंक लेकर 10 टीमों की तालिका में दूसरे स्थान पर पहुंच गई है। उसे एक स्थान का फायदा हुआ है।

दूसरी ओर, पहली बार ISL में खेल रही हैदराबाद एफसी के खाते में छह हार, एक जीत और दो ड्रॉ है। उसके पास पांच अंक हैं और वह तालिका में अभी भी सबसे नीचे है। फाउल के साथ शुरू होने वाला इस मुकाबले का पहला हाफ प्रतिस्पर्धा के लिहाज से बराबर रहा। दो बार के चैम्पियन एटीके ने जहां 15वें मिनट में हासिल पेनाल्टी पर गोल करते हुए बढ़त हासिल की वहीं मेजबान टीम ने 39वें मिनट में मिले कार्नर को सफलता का मंत्र बनाया और बराबरी कर ली।

मेजबान टीम ने हालांकि आठवें मिनट में एक बेहतरीन मौका बनाया था, लेकिन उसे सफलता नहीं मिली। नौवें मिनट में मेजबान टीम के जाइल्स बार्नेस को पीला कार्ड मिला। एटीके ने 13वें मिनट में एक हमला किया, जिस पर उसे पेनाल्टी मिल गया। इस पर गोल करते हुए रॉय कृष्णा ने एटीके को 1-0 से आगे कर दिया। एटीके को यह पेनाल्टी बॉक्स में आशीष राय द्वारा हैंडबॉल किए जाने पर मिला और इस सीजन में सबसे अधिक गोल करने वाले कृष्णा ने बिना कोई गलती किए गेंद को पोस्ट में डाल दिया। इसी तरह का हालात 23वें मिनट में एटीके के लिए पैदा हुआ था, लेकिन रेफरी ने पेनाल्टी नहीं दिया। मार्सेलिन्हो ने एक लो फ्रीकिक लिया था और गेंद बॉक्स के अंदर कृष्णा के हाथ से टकराया था लेकिन रेफरी ने इसे नजरअंदाज कर दिया। मार्सेलिन्हो और कोच फिल ब्राउन इस पर काफी नाराज नजर आए।

24वें मिनट में हैदराबाद को बराबरी का एक और मौका मिला था लेकिन उसे सफलता नहीं मिली। 30वें मिनट में हालांकि एटीके के लिए कृष्णा ने एक मौका बनाया लेकिन गेंद वाइड रह गई। इसके जवाब में हैदराबाद के लिए मार्सेलिन्हो और निखिल पुजारी ने मौका बनाया लेकिन प्रीतम कोटाल ने उसे क्लीयर कर दिया। 38वें मिनट में आदिल खान राइट फ्लैंक से गेंद लेकर बॉक्स में पहुंचे लेकिन सलाम रंजन सिंह ने उसे क्लीयर कर दिया। इस पर हैदराबाद को कार्नर मिला। कार्नर नेस्टर गोर्डिलो ने लिया और डेविसन रोजारियो दा सिल्वा (बोबो) ने गोल करते हुए मेजबान टीम को बराबरी पर ला दिया।

बराबरी के गोल से आहत एटीके ने दूसरे हाफ की शुरुआत में 46वें मिनट में एक शानदार मूव बनाया। डेविड विलियम्स ने राइट फ्लैंक से एक अच्छा क्रास दिया, जिस पर कृष्णा ने हेडर के जरिए गोल करना चाहता। गेंद हालांकि पोस्ट के करीब से निकल गई। एटीके ने इसी तरह के दो हमले 57वें और 61वें मिनट में लेकिन वे क्लीयर कर दिए गए। 64वें मिनट में एटीके के सेहनाज सिंह को पीला कार्ड मिला। मार्सेलिन्हो ने 76वें मिनट में मिले फ्रीकिक पर बॉक्स के बाहर से अच्छा शॉट लिया। वह गेंद को वॉल के ऊपर से पोस्ट की ओर भेजने में सफल रहे लेकिन गेंद उम्मीद के मुताबिक कर्ल नहीं हुई और गोलकीपर अरिंदम भट्टाचार्य ने उसे दिशाहीन कर दिया।

इसी बीच, कुछ ऐसा हुआ, जिसकी एटीके को कतई उम्मीद नहीं थी। मार्सेलिन्हो ने लगभग हाफलाइन से एक बेहतरीन एरियल पास बॉक्स में पहुंचे, जिसे हेडर के जरिए पोस्ट में डालकर बोबो ने हैदराबाद को 2-1 से आगे कर दिया। यह एक बेहतरीन गोल था। इसके बाद कृष्णा ने 90वें मिनट में गोल करते हुए स्कोर 2-2 कर दिया।

कमेंट करें
uflx6