comScore

उप्र के 5 पुलिसकर्मी गोहत्या की जांच में ढिलाई के लिए दंडित

May 18th, 2020 13:01 IST
 उप्र के 5 पुलिसकर्मी गोहत्या की जांच में ढिलाई के लिए दंडित

हाईलाइट

  • उप्र के 5 पुलिसकर्मी गोहत्या की जांच में ढिलाई के लिए दंडित

मुरादाबाद (उत्तर प्रदेश), 18 मई (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले में गौहत्या की घटनाओं की जांच में विफलता के लिए एक स्टेशन हाउस ऑफिसर (एसएचओ) सहित पांच पुलिसकर्मियों को पुलिस लाइन भेजा गया है।

जिले के कुंदरकी क्षेत्र से पिछले एक सप्ताह में गोहत्या की कम से कम 10 शिकायतें दर्ज की गईं और अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।

ऐसी ही एक शिकायत में रौनागला गांव से एक गाय चोरी हो गई और पड़ोस के मोहम्मद जमापुर गांव में आम के बाग में उसे कत्ल कर दिया गया।

गाय लापता होने के बाद किसान हरिओम सैन ने पुलिस शिकायत में कहा कि उसने जब आसपास गाय को ढूंढा तो उन्हें अगले गांव में उसके शरीर का एक टुकड़ा पड़ा हुआ मिला।

उन्होंने कहा, मेरी गाय का वध करने से मैं बहुत दुखी हूं और आरोपियों ने मेरी आजीविका को भी सीधे तौर पर प्रभावित किया है, क्योंकि गाय मेरे परिवार की आय का एक बड़ा स्रोत थी।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) अमित पाठक ने कहा कि कुंदरकी एसएचओ और उनकी टीम ने पर्याप्त कार्रवाई नहीं की है।

उन्होंने कहा कि एसएचओ के साथ, इंस्पेक्टर प्रेमपाल सिंह, दो सब-इंस्पेक्टर अमरपाल सिंह और राज सिंह और दो कांस्टेबल कशिश कुमार और अब्दुल मुतालिव को लाइनों में भेजा गया है। उनके खिलाफ जांच के आदेश भी दिए गए हैं।

इसके बाद इंस्पेक्टर अजयपाल सिंह को अब थाने का प्रभार दिया गया है।

इस बीच, क्षेत्रीय सर्कल अधिकारी महेंद्र सिंह ने कहा कि चार टीमों को छापेमारी करने और उन सक्रिय लोगों को गिरफ्तार करने के लिए कहा गया है जो क्षेत्र में हुई गोहत्या में शामिल हैं।

कमेंट करें
nbDdf