दैनिक भास्कर हिंदी: NRC पर बोले जेटली, 13 साल पहले ममता ने बांग्लादेशियों को बताया था आपदा

August 2nd, 2018

हाईलाइट

  • पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की पार्टी एनआरसी का विरोध कर रही है।
  • केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने एनआरसी को लेकर ट्वीट किया है।
  • ममता ने कहा था, मेरे पास बांग्लादेशी और भारतीय मतदाता सूची दोनों हैं: जेटली

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। नेशनल रजिस्टर फॉर सिटीजन्स (एनआरसी) पर सड़क से लेकर संसद तक घमासान मचा हुआ है। सरकार सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में सबकुछ होने का तर्क दे रही है। तो विपक्ष सरकार की आलोचना कर रहा है। पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की पार्टी एनआरसी का विरोध कर रही है। ममता ने एनआरसी के जरिए भाजपा पर वोटबैंक पॉलिटिक्स का आरोप लगाया है। केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने एनआरसी को लेकर ट्वीट किया है। जेटली ने कहा कि ममता बनर्जी ने 4 अगस्त 2005 को लोकसभा में कहा था कि बंगाल में घुसपैठ अब आपदा की तरह हो गई है। उन्होंने कहा था कि मेरे पास बांग्लादेशी और भारतीय मतदाता सूची दोनों हैं। यह एक गंभीर मामला है। सदन में इस पर कब चर्चा होगी। जेटली ने लिखा कि राजनीतिक बहस की गुणवत्ता की वजह से भारत की संप्रभुता को कीमत चुकानी पड़ रही है। 2005 में बीजेपी की सहयोगी रहीं ममता बनर्जी ने एक स्टैंड लिया था। संघीय मोर्चा के नेता के रूप में अब वह इससे उलट बात कर रही हैं।

 

 

 

परेश का ट्वीट, विपक्ष 40 लाख वोट से पीछे
भाजपा सांसद परेश रावल ने एनआरसी मामले में विपक्ष पर तंज कसा है। परेश ने ट्वीट पर लिखा कि 2019 का पहला रुझान आ गया है। इस रुझान में विपक्ष 40 लाख वोटों से पीछे चल रहा है।