दैनिक भास्कर हिंदी: बदलाव: अब शिवाजी के नाम से जाना जाएगा आगरा में बन रहा मुगल म्यूजियम, योगी बोले- मुगल नहीं हो सकते हमारे नायक 

September 15th, 2020

हाईलाइट

  • सीएम योगी ने सोमवार को लिया फैसला
  • आगरा मंडल की समीक्षा के दौरान निर्णय
  • प्रदेश में नाम बदलने का सिलसिला जारी

डिजिटल डेस्क, लखनउ। उत्तर प्रदेश के आगरा में बन रहे योगी सरकार ने मुगल म्यूजियम का नाम बदलने का फैसला लिया है। इसके तहत मुगल म्यूजियम का नाम अब छत्रपति शिवाजी महाराज म्यूजियम होगा। आगरा मंडल की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यह फैसला किया। सीएम योगी ने सोमवार को कहा कि आगरा में निर्माणाधीन मुगल म्यूजियम, छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम स्थापित होगा। ताजमहल के पूर्वी गेट पर बन रहा यह संग्रहालय करीब 150 करोड़ का प्रॉजेक्ट है।

मुख्यमंत्री ने एक ट्वीट में इस फैसले की जानकारी दी। उन्होंने ट्वीट में लिखा, 'आगरा में निर्माणाधीन म्यूजियम को छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम से जाना जाएगा। आपके नए उत्तर प्रदेश में गुलामी की मानसिकता के प्रतीक चिन्हों का कोई स्थान नहीं। हम सबके नायक शिवाजी महाराज हैं। जय हिन्द, जय भारत।'

मुख्यमंत्री योगी ने सोमवार शाम छह बजे वीडियो कॉन्फ्रेसिंग से समीक्षा की। कोरोना वायरस के कारण कलक्ट्रेट स्थित एनआईसी में अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों को अलग-अलग कक्षों में बैठाया गया। मुख्यमंत्री ने 10 से 50 करोड़ की योजनाओं को जल्द पूरा करने के निर्देश दिए।

पर्यटकों के लिए खास इंतजाम करने का आदेश
यूपी सरकार ने इस म्यूजियम के जरिए छत्रपति शिवाजी महाराज के वैभव को सारी दुनिया में प्रसारित करने का लक्ष्य बनाया है। सरकार ने पर्यटन विभाग के अधिकारियों के माध्यम से म्यूजियम में मराठा साम्राज्य के कालखंड की तमाम चीजों का प्रदर्शित करने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा पर्यटकों के लिए यहां विशेष सुविधाओं का इंतजाम कराने के लिए भी कहा गया है।

11 शहीदों के नाम पर उनके जिले की एक-एक सड़कें
बता दें कि इससे पहले यूपी सरकार ने फैसला लिया था कि राज्य के 11 शहीदों के नाम पर उनके जिले की एक-एक सड़क का नामकरण किया जाएगा। इस बारे में लोक निर्माण विभाग की ओर से अधिसूचना भी जारी कर दी गई है। प्रदेश के लोक निर्माण विभाग की ओर से जय हिंद वीर पथ योजना का ऐलान किया गया। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने इन मार्गों पर शहीदों के सम्मान में बड़े और आकर्षक बोर्ड लगाने के निर्देश जारी किए थे।

बैठक में ये रहे मौजूद
वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में राज्यमंत्री चौ. उदयभान सिंह, सांसद एसपी सिंह बघेल, विधायक महेश गोयल, पुरुषोत्तम खंडेलवाल, जितेन्द्र वर्मा के अलावा कमिश्नर अनिल कुमार, डीएम प्रभु एन सिंह, सीडीओ जे रीभा, नगरायुक्त निखिल टी. फुंडे आदि मौजूद रहे।