दैनिक भास्कर हिंदी: स्पाइस जेट ने कहा- प्रज्ञा ठाकुर व्हीलचेयर पर थीं, नॉन इमरजेंसी सीट पर जाने से इनकार किया

December 23rd, 2019

हाईलाइट

  • प्रज्ञा ठाकुर के स्पाइस जेट पर बुरा व्यवहार के आरोपों के बाद एयरलाइन ने सफाई पेश की
  • एयरलाइन ने साफ किया कि प्रज्ञा ठाकुर अपनी व्हीलचेयर पर फ्लाइट में चढ़ी थी
  • इसी वजह से सुरक्षा कारणों के चलते उन्हें सीट बदलने के लिए कहा गया था

डिजिटल डेस्क, भोपाल। भोपाल सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर के स्पाइस जेट पर बुरा व्यवहार करने के आरोपों के बाद एयरलाइन ने सफाई पेश की है। एयरलाइन ने साफ किया कि प्रज्ञा ठाकुर अपनी व्हीलचेयर पर फ्लाइट में चढ़ी थी। इसी वजह से सुरक्षा कारणों के चलते उन्हें सीट बदलने के लिए कहा गया था। बता दें कि प्रज्ञा ठाकर उनकी बुक कराई सीट न मिलने से नाराज हो गई थी और उन्होंने इसकी शिकायत दर्ज कराई थी।

एयरलाइन ने कहा, 'भोपाल सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने स्पाइसजेट की 21 दिसंबर की फ्लाइट SG 2498 (दिल्ली-भोपाल) की सीट 1A की प्री-बुकिंग की थी और वह अपनी व्हीलचेयर से ही एयरपोर्ट आई थी।' एयरलाइन ने कहा, 'दिल्ली-भोपाल फ्लाइट बॉम्बार्डियर Q400 विमान (78 सीटर) से संचालित की जाती है। इस एयरक्राफ्ट में, पहली रो इमरजेंसी रो सीट है और व्हीलचेयर वाले पैसेंजर्स को आवंटित नहीं की जाती है।'

एयरलाइन ने कहा, 'जैसा कि सांसद प्रज्ञा ठुकार अपनी व्हीलचेयर के साथ आई थीं और उन्होंने एयरलाइन के माध्यम से बुकिंग नहीं की थी, कर्मचारियों को इस तथ्य के बारे में पता नहीं था कि वह व्हीलचेयर पैसेंजर है। उन्हें क्रू ने सुरक्षा कारणों के चलते 2 A/B (नॉन इंमरजेंसी रो) में शिफ्ट होने के लिए कहा, लेकिन उन्होंने मना कर दिया। ड्यूटी मैनेजर और अन्य कर्मचारियों ने भी उनसे दूसरी सीट पर जाने का अनुरोध किया।

प्रज्ञा ठाकुर ने एयरलाइन स्टाफ से सेफ्टी इंस्ट्रक्शन डॉक्यूमेंट भी मांगा जिसमें एक्जिट डोर पॉलिसी के बारे में जानकारी दी गई थी। एयरलाइन स्टाफ ने उन्हें ये मुहैया कराया। स्पाइसजेट ने यह भी कहा कि इससे फ्लाइट के टेकऑफ में देरी हुई। ठाकुर के सीट बदलने से इनकार के बाद अन्य यात्रियों ने एयरलाइन कर्मचारियों से उन्हें उतारने का अनुरोध किया। आखिरकार वह अपनी सीट 1A से 2B में बदलने के लिए तैयार हो गईं और फ्लाइट रवाना हो पाई। एयरलाइन ने कहा, 'हमें इस असुविधा के लिए खेद है। हालांकि, हमारे यात्रियों की सुरक्षा स्पाइसजेट के लिए सर्वोपरि है।'

इस बीच, कांग्रेस ने इस मामले को लेकर प्रज्ञा सिंह ठाकुर पर निशाना साधा। कमलनाथ कैबिनेट में कानून मंत्री पीसी शर्मा ने कहा, 'वह बिल्कुल भी साध्वी नहीं हैं। अगर वह साध्वी हैं तो उन्हें केंद्र में अपनी सरकार का विरोध करना चाहिए जो बाढ़ राहत और फसल बीमा के लिए मध्य प्रदेश सरकार का हिस्सा नहीं दे रही है।' पीसी शर्मा ने कहा, 'उन्हें नागरिकता संशोधन अधिनियम पर देशभर में चल रही स्थिति का विरोध करना चाहिए। संसद सदस्य के लिए फ्लाइट में सीट का विरोध करना अच्छी बात नहीं है।'

बता दें कि इस मामले को लेकर प्रज्ञा सिंह ठाकर ने भोपाल के राजा भोज एयरपोर्ट पर शिकायत दर्ज कराई है। एयरपोर्ट के डायरेक्टर ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि सीट आवंटन को लेकर प्रज्ञा ठाकुर की शिकायत मिली है। इस मामले की जांच की जाएगी। प्रज्ञा ठाकुर सीट आवंटन को लेकर नाराज थीं, जिस पर उन्होंने शिकायत दर्ज कराई है। प्रज्ञा ठाकुर की मानें तो एयरलाइन कंपनी का स्टाफ पहले भी उनसे गलत व्यवहार कर चुका है।