comScore

देवों के ​देव महादेव की आराधना से सुखमय होगा जीवन, इन बातों रखें का ख्याल

देवों के ​देव महादेव की आराधना से सुखमय होगा जीवन, इन बातों रखें का ख्याल

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। हिन्दू धर्म में यूं तो हर दिन कई देवी देवताओं की पूजा होती है, लेकिन इनमें दिन और तिथि का काफी महत्व है। दिनों के हिसाब से हर दिन किसी एक विशेष देवी- देवता की पूजन की जाती है। इनमें देवों के देव महादेव यानी भगवान शिव की पूजा के लिए सोमवार का दिन शुभ माना जाता है। कहा जाता है कि भगवान शिव एकमात्र ऐसे देव हैं, जो बहुत जल्दी प्रसन्न हो जाते हैं, लेकिन यदि पूजा-अर्चना में किसी प्रकार की भूल हो जाए तो भगवान रूष्ट हो सकते हैं, इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को पूजा करते समय कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए। तो आइए जानते हैं शिवजी की पूजा के समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए...

इन बातों का रखें ख्याल
शिव जी की पूजा में अगर आप चावल चढ़ाते हैं तो इस बात विशेष ध्यान रखें कि वे चावल खंडित यानि टूटे हुए नहीं होने चाहिए। वहीं शिव जी को आप नारियल तो चढ़ा सकते हैं, पर नारियल का पानी नहीं चढ़ाना चाहिए। हल्दी और कुमकुम उत्पत्ति के प्रतीक माने गए हैं, ऐसे में इनका प्रयोग भी शिव जी के पूजन में नहीं होना चाहिए। साथ ही कभी भी मुरझाए हुए फूल भगवान शिव को अर्पित न करें क्योंकि इससे शिवजी क्रोधित हो सकते हैं और आपको उनके क्रोध का भागी बनना पड़ सकता है।

साथ ही इस बात का भी ध्यान अवश्य रखें कि कपड़े साफ और शुद्ध हो, क्योंकि ऐसे वस्त्र शुद्ध होने के साथ-साथ आरामदायक होते हैं। पूजा में ऐसे वस्त्र पहनकर बैठने से व्यक्ति का ध्यान इधर-उधर नहीं भटकटा। वहीं धार्मिक मान्यता है कि पुरुषों के लिए पूजा के समय धोती-कुर्ता या लाल,सफेद लुंगी पहनना चाहिए। 

भूलकर भी शिवलिंग पर न चढ़ाएं
मान्यता है कि शिवजी को सफेद रंग के फूल पसंद होते हैं, पर वहीं केतकी का फूल सफेद होने पर भी शिवजी की पूजा में नहीं प्रयोग होता है.. और भगवान शिव की पूजा में शंख से जल अर्पित करने का विधान भी नहीं, इसलिए ऐसा करने से बचना चाहिए। 

साथ ही भगवान शिवजी की पूजा में तुलसी का प्रयोग भी वर्जित माना गया है। शिव पूजा में तिल का भी प्रयोग नहीं करना चाहिए क्योंकि मान्यता है कि तिल भगवान विष्णु के मैल से उत्पन्न हुआ है, ऐसे में तिल भगवान विष्णु को तो अर्पित किया जाता है पर शिव जी को नहीं चढ़या जाता।

पूजा के वस्त्र 
शिव पूजा के दौरान पहने जाने वाले वस्त्रों पर विशेष ध्यान देना चाहिए किन्तु अधिकतम देखा जाता है कि लोग इस पर ध्यान नही देते हैं। शास्त्रों के अनुसार शिव की पूजा के समय हरे,लाल और सफेद रंग के कपड़े पहनना शुभ माना जाता है, पर जो लोग इसका पालन नहीं करते और किसी भी रंग के वस्त्र पहनकर पूजा कर लेते हैं उन पर शिव की कृपा नहीं होती और न ही पूजा का सही फल मिल पाता है।

सोमवार के दिन पूजा करते हुए काले कपड़े भूलकर भी नहीं पहनने चाहिए, क्योंकि धार्मिक मान्यताओं के अनुसार शिवजी को काला रंग अप्रिय है काले रंग के वस्त्रों से वे क्रोधित हो जाते हैं। ऐसे में शिवजी की पूजा करते समय काले वस्त्र पहनने से सदा बचें और प्रयास करें कि सोमवार को शिव पूजा में हरा, लाल, सफेद, केसरिया, पीले या आसमानी रंग के वस्त्र ही धारण करें।

मंदिर में पूजा करें दंपति
मान्यताओं के अनुसार इस दिन भगवान शिव की पूजा करने से व्यक्ति की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं, इसलिए इस दिन लोग भगवान शंकर की पूजा के साथ-साथ व्रत आदि भी करते हैं। खास महत्व दंपती लिए बताया जाता है, यदि इस दिन कोई दंपति मंदिर में जाकर पूजा-अर्चना करते हैं तो उनका वैवाहिक जीवन सुखमय हो जाता है। वैवाहिक जीवन के साथ-साथ सोमवार का व्रत व्यक्ति के लिए हितकारी माना जाता है।

कमेंट करें
vKO36