comScore

 कर्मचारियों को बंधक बना सब स्टेशन में की लूटपाट , मोबाइल पर्स समेत केबल ले गए लुटेरे 

 कर्मचारियों को बंधक बना सब स्टेशन में की लूटपाट , मोबाइल पर्स समेत केबल ले गए लुटेरे 

डिजिटल डेस्क, अनूपपुर। कोयलांचल क्षेत्र कोतमा में एक बार फिर अपराधियों के हौसले बुलंद होते जा रहे हैं। कोतमा से केशवाही रोड पर स्थित 132 केव्ही उप केन्द्र  में 8 जुलाई की रात एक दर्जन नकाबपोशों ने धावा  दिया। अपराधियों ने उप केन्द्र में मौजूद कर्मचारियों को बंधक बनाते हुए न सिर्फ जमकर लूटपाट की बल्कि जाते-जाते विद्युत उपकरणों को भी लूट कर ले गए। देर रात ही कर्मचारियों ने इसकी सूचना सहायक अभियंता सुशील कुमार यादव को दी। जिसके बाद सुबह थाने में मामला पंजीबद्ध कराने के लिए आवेदन दिया गया। 

कर्मचारियों को बनाया बंधक 

8 जुलाई की रात केशवाही उप केन्द्र में आपरेटर अशोक कुमार साहू, रामगोपाल वर्मा व सुरक्षा सैनिक हीरालाल सिंह मौजूद थे। तभी रात्रि लगभग 1 बजे एक दर्जन नकाबपोशों ने सब स्टेशन में धावा बोलते हुए तीनों कर्मचारियों के साथ मारपीट शुरू कर दी। तीनों को एक कमरे में बंद करते हुए चुपचाप बैठे रहने की धमकी दी गई। 

उप केन्द्र पर किया हाथ साफ

कर्मचारियों को बंधक बनाने के साथ ही नकाबपोशों  ने कापर केबल, एल्मुनियम केबल, टुल्लू पंप, लाइटिंग अरेस्टर रिंग, एक्साज मोटर, ट्रांसफार्मर फैन समेत उप केन्द्र में मौजूद कीमती कलपुर्जे अपने साथ ले गए। जाते-जाते दोनों कर्मचारियों के मोबाइल उनके पर्स और सोने की अंगूठियां भी उतरवा ले गए। सिर्फ इतना ही नहीं कर्मचारियों के जूते मोजे भी नकाबपोश अपने साथ ले गए। 
 

देर शाम तक दर्ज नहीं एफआईआर 

9 जुलाई की सुबह दिए गए आवेदन पर शाम 6 बजे तक कोतमा थाने में एफआईआर दर्ज नहीं की गई  थी। पहले सर्वर और उसके बाद विवेचना की बात कही जाने लगी। इससे पूर्व भी विद्युत तार चोरी और विद्युतकर्मियों के साथ घटित हुई घटना में एफआईआर दर्ज नहीं की गई थी। लूट के इस मामले में भी सहायक अभियंता और पीडि़त कर्मचारी सुबह से शाम तक थाने के चक्कर काटते रहे। 

इनका कहना है 

पूरे मामले की जानकारी थाने से लेकर ही एफआईआर के संबंध में बता पाऊगा। इस मामले पर कार्यवाही की जाएगी। एसएन प्रसाद, एसडीओपी कोतमा

कमेंट करें
SUJIb