दैनिक भास्कर हिंदी: बिहार चुनाव: तेजस्वी यादव ने लालू की रिहाई का दावा किया, कहा- 9 नवंबर को लालू जी की रिहाई और 10 को नीतीश की विदाई

October 23rd, 2020

डिजिटल डेस्क, पटना। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव ने बिहार में एक रैली को संबोधित करते हुए बिहार पूर्व सीएम लालू प्रसाद यादव की रिहाई का दावा किया है। उन्होंने कहा कि 9 नवंबर को लालू प्रसाद यादव जेल से रिहा हो जाएंगे और अगले दिन यानी 10 नवंबर को नीतीश कुमार जी का फेयरवेल होगा। महागठबंधन के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव को अपनी जीत पर पूरा भरोसा है। तेजस्वी ने विश्वास जताते हुए कहा कि लालू जी 9 नवंबर को रिहा हो रहे हैं। उसी दिन मेरा जन्मदिन भी है और 10 नवंबर को नीतीश जी की विदाई होगी।

एक सभा को संबोधित करते हुए नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जब लॉकडाउन हुआ तो नीतीश जी कहां थे। शिक्षा, रोजगार का हाल बुरा है। अस्पताल में डॉक्टर नहीं हैं। दवा भी नहीं मिल रही है। नीतीश सरकार के पास न तो कोई मिशन है और न कोई विजन है। उन्होंने 15 साल तक सत्ता सुख भोगने व बिहार के गरीबों को छलने का काम किया है।

तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश कुमार 15 साल से राज्य के मुख्यमंत्री हैं। केंद्र और राज्य दोनों जगह इनकी सरकार है, लेकिन इस डबल इंजन की सरकार में कहीं भी कोई काम बिना चढ़ावा के नहीं होता है। यादव ने केंद्र और राज्य पर निशाना साधते हुए कहा कि बिहार का 18 जिला बाढ़ में डूबा रहा, लेकिन सेंट्रल की टीम भी नहीं आई। कोई नहीं देखने आया। तेजस्वी ने कहा कि आदरणीय प्रधानमंत्री जी आपकी सरकार बिहार में लगभग 15 साल से है। सुशील कुमार मोदी लगातार बिहार के उपमुख्यमंत्री रहे हैं। अब वो रोजगार, नौकरी, कारखानों की बात कर रहे हैं। तो मोदी जी नीतीश कुमार जी से पूछकर बताएं कि 15 साल बाद उनकी नींद क्यों खुली?

नीतीश जी 144 दिन तक घर के अंदर रहे, लेकिन अब वोट चाहिए तो बाहर निकल रहे हैं। नीतीश कुमार पलायन को रोक नहीं पा रहे हैं। बिहार का अरबों रुपया बाहर जा रहा है। तेजस्वी ने पीएम मोदी पर भी निशाना साधा और पूछा कि उस विशेष पैकेज का क्या हुआ, जिसके लिए आपने 5 साल पहले बिहार की बोली लगाई थी।

रोजगार के मुद्दे पर तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश पर पलटवार करते हुए कहा कि नीतीश कुमार कहते हैं कि रोजगार देने के लिए पैसा कहां से आएगा। बिहार का बजट 2 लाख 13 हजार करोड़ है, नीतीश जी केवल 60 फीसदी खर्च कर पाते हैं। बाकी 80 हजार करोड़ तो है ही। इस पैसे से लोगों को रोजगार दें। हमारी सरकार बनी तो हम तुरंत 10 लाख सरकारी नौकरी देंगे।

बता दें कि बिहार में 28 अक्टूबर को प्रथम चरण का मतदान, तीन नवंबर को दूसरे चरण का मतदान और सात नवंबर को अंतिम चरण का मतदान होगा। वहीं, नतीजे की घोषणा 10 नवंबर को होगी।

खबरें और भी हैं...