दैनिक भास्कर हिंदी: कतर के खिलाफ हर एक मिनट, एक घंटे की तरह लगा : छेत्री

September 11th, 2020

हाईलाइट

  • कतर के खिलाफ हर एक मिनट, एक घंटे की तरह लगा : छेत्री

डिजिटल डेस्क, बेंगलुरू। भारतीय फुटबॉल टीम के कप्तान सुनील छेत्री ने कहा है कि पिछले साल कतर के खिलाफ खेले गए फीफा विश्व कप 2022 क्वोलीफाइंग मैच के दौरान हर एक मिनट उन्हें एक घंटे की तरह लगा था। भारत ने आज ही के दिन पिछले साल गए इस मैच में एशियन चैंपियन कतर से गोलरहित ड्रॉ खेला था। भारत के लिए सर्वाधिक गोल करने वाले छेत्री बीमार होने के कारण इस मैच में नहीं खेले थे।

छेत्री ने एआईएफएफ टीवी से कहा, विश्व कप क्चोलीफायर में एशियाई चैंपियन कतर के खिलाफ खेलना सपने की तरह था। मैं अपने होटल के कमरे में बैठक केवल मैच को देख ही सकता था। मैं पूरी तरह से टीवी से चिपका हुआ था और पूरे दिल से टीम को सपोर्ट कर रहा था। उन्होंने कहा, मैं बीमार था। इसलिए मैच देखने के लिए मैदान में नहीं जा सकता था। मैदान के बाहर रहना मेरे लिए यातनाएं झेलने के समान था। हर एक मिनट एक घंटे की तरह गुजरा था। लेकिन आखिर में हमने एक यादगार परिणाम हासिल की।

भारतीय कप्तान ने कहा कि वह टीम की मदद नहीं कर सकते थे, लेकिन परिणाम आने के बाद उन्होंने टीम के साथ मिलकर मिठाईयां खाई थी। उन्होंने कहा, मैच खत्म होने के बाद मैं टीम में एक-एक करके सबसे गले मिला और मैं उनके चेहरे पर खुशी देख सकता था। मैं अपने खानपीने को लेकर पूरी तरह से सतर्क था और टीम भी इस बात को जानती थी, लेकिन मैच के बाद मैं भी सोच रहा था कि आज तो मीठा बनता है।