दैनिक भास्कर हिंदी: खिलाड़ियों को आईएसएल में मिले मौकों को भुनाने की जरूरत : जेजे

July 30th, 2020

हाईलाइट

  • खिलाड़ियों को आईएसएल में मिले मौकों को भुनाने की जरूरत : जेजे

कोलकाता, 29 जुलाई (आईएएनएस)। भारतीय पुरुष फुटबाल टीम के स्ट्राइकर जेजे लालपेखलुआ का मानना है कि देश में फुटबाल को बढ़ावा देने के लिए इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) जो कुछ कर सकता था, वह उसने किया है और अब यह खिलाड़ियों के ऊपर निर्भर है कि वे इसे आगे लेकर जाएं।

वर्ष 2014 में शुरू हुई यह लीग अब भारत की प्रमुख फुटबाल लीग बन गई है। पिछले सीजन से ही लीग की विजेता टीम को एएफसी चैंपियंस लीग में सीधे प्रवेश मिलती है।

लालपेखलुआ ने आईएसएल से कहा, 2007-2008 में हमारे समय की तुलना में, जब मैं पेशेवर बना था, तो उस समय हमें ऐसी सुविधाएं कभी नहीं मिलीं, जैसा कि अब आईएसएल में है। अब चीजें बदल गई है। भारतीय फुटबाल को अगले स्तर तक ले जाने के लिए अब खिलाड़ी काफी महत्वपूर्ण है। खिलाड़ी काफी भाग्यशाली हैं कि उन्हें यह मौका मिला है। उन्हें इस मौके को दोनों हाथों से लपकने और इसका फायदा उठाने की जरूरत है।

आईएसएल लीग में चेन्नइयन एफसी के लिए खेलने वाले लालपेखुलआ, एएफसी चैंपियंस लीग में गोल करने वाले आईएसएल क्लब के पहले खिलाड़ी हैं। उन्होंने श्रीलंका के कोलंबो एफसी के खिलाफ गोल दागा था।

उन्होंने कहा, मेरे करियर में, मुझे जो पहली सही कोचिंग मिली थी, तब मैं 17 साल का था। अगर मैंने पहले ही कोचिंग प्राप्त कर ली होती, जब मैं 7-8 साल का था, तो निश्चित रूप से मैं एक फुटबॉलर के रूप में बहुत बेहतर हो सकता था। यदि वे (युवा) कड़ी मेहनत करते हैं, तो सब कुछ ठीक हो जाएगा। लेकिन मुख्य रूप से यह उन पर निर्भर है कि वे अपना करियर बनाएं।

- -आईएएनएस