नई दिल्ली : दिल्ली में कायाकल्प करने वाले 24 अस्पतालों को अवार्ड

July 25th, 2022

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली में शानदार काम करने वाले अस्पतालों को कायाकल्प स्टेट अवार्ड से सम्मानित किया गया है। कुल 24 अस्पतालों और 82 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों (पीएचसी) को मानक प्रोटोकॉल का पालन करने और मरीजों को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान के लिए सम्मानित किया गया।

कायाकल्प अवार्ड का उद्देश्य सार्वजनिक स्वास्थ्य देखभाल सुविधाओं में स्वच्छता, अपशिष्ट प्रबंधन और संक्रमण को रोकने के तरीकों में सुधार और बढ़ावा देने के साथ अनुकरणीय प्रदर्शन सुविधाओं को प्रोत्साहित करना है। इस योजना का उद्देश्य देश में सार्वजनिक स्वास्थ्य सुविधाओं (पीएचएफ) को स्वच्छता और संक्रमण नियंत्रण प्रथाओं के लिए अपनी प्रतिबद्धता प्रदर्शित करने के लिए प्रोत्साहित करना है।

उल्लेखनीय है कि दिल्ली सरकार के 13 और अस्पतालों ने कायाकल्प अवार्ड के लिए में 70 प्रतिशत से अधिक स्कोर किया और उन्हें कमेंडेशन अवार्ड से सम्मानित किया गया साथ ही 6 सुपर स्पेशियलिटी अस्पतालों ने भी 70 प्रतिशत से अधिक स्कोर किया है। कमेंडेशन अवार्ड पाने वाले अस्पतालों को 3-3 लाख रुपए की पुरस्कार राशि दी जाएगी। कायाकल्प योजना के अंतर्गत अस्पतालों व स्वास्थ्य केन्द्रों के मूल्यांकन के लिए सरकार की ओर से एक निर्धारित चेकलिस्ट होती है।

उसमें बिंदुवार अंक निर्धारित होते हैं। पूरी चेकलिस्ट को आठ भागों में बांटा गया है। जिसमें स्वास्थ्य केंद्र, अस्पताल का रखरखाव, स्वच्छता एवं साफ-सफाई, बायोमेडिकल वेस्ट मैनेजमेंट, संक्रमण नियंत्रण, स्वच्छता को बढ़ावा देना, सहयोगी सेवाएं, चाहरदीवारी के चारों तरफ का क्षेत्र एवं पर्यावरण अनुकूल वातावरण में बांटा गया है। इन बिन्दुओं को ध्यान में रखते हुए ही अवार्ड के लिए स्कोर का निर्धारण किया जाता है।

इस मौके पर उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने अवार्डी अस्पतालों को बधाई देते हुए कहा कि दिल्ली सरकार के अस्पतालों के डॉक्टर्स और अन्य स्टाफ का अपने अस्पताल की बेहतरी के प्रति प्रतिबद्धता के कारण आज हमारे अस्पतालों में देश भर के लोग इलाज करने आते है क्योंकि उनका दिल्ली के हेल्थ-केयर सिस्टम के प्रति भरोसा बढ़ा है।

उन्होंने आगे कहा कि 2015 में अरविंद केजरीवाल के सरकार में आते ही स्वास्थ्य व्यवस्था को बेहतर बनाना हमारी प्राथमिकता बन गई और तब से हमने अपने अस्पतालों के लिए कभी पैसों की कमी नहीं होने दी। अस्पतालों ने भी सरकार को जो इनोवेटिव आइडियाज दिए उसे हमने हमेशा स्वीकार किया। यही कारण है कि आज दिल्ली सरकार के अस्पतालों में लोगों को शानदार स्वास्थ्य सुविधाएं, शानदार ट्रीटमेंट मिल रहा है।

सिसोदिया ने कहा कि हमारे अस्पतालों ने पिछले सालों में शानदार काम किया है लेकिन हमें यही नहीं रुक जाना है। हमारे अस्पतालों को नई ऊंचाइयों तक पहुंचने के लिए आउट-ऑफ-द-बॉक्स सोचने की जरुरत है। जिसके लिए सबसे जरुरी है नजरिया बदलने की। हमारे हॉस्पिटल लीडर्स व स्टाफ को अपना नजरिए को बदलना होगा। उन्होंने कहा कि हॉस्पिटल को ट्रेडिशनल तरीके से स्वीकृति देने के भाव को बदलने की जरूरत है और किसी भी चीज के लिए तबतक अपने मन में स्वीकृति नहीं दें, जबतक वो शानदार न हो जाए चाहे वो अस्पताल के रखरखाव को लेकर हो या फिर उसकी साफ-सफाई को लेकर।

(आईएएनएस)

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.