comScore

संदिग्ध कोरोना संक्रमित मरीज के शव को घर तक पहुंचाने में कोरोना वालंटियर्स ने की मदद!

संदिग्ध कोरोना संक्रमित मरीज के शव को घर तक पहुंचाने में कोरोना वालंटियर्स ने की मदद!

डिजिटल डेस्क | अनुपपुर कोरोना विपदा काल में आम लोगों में जागरूकता लाने एवं उनकी मदद के लिए काम कर रहे हे जन अभियान परिषद के वालंटियर्स आमजन को हर तरह से सहयोग दे रहे हैं। हाल ही में कोरोना वॉलिंटियर्स वैभव जैन व अर्पित शुक्ला के द्वारा कोतमा में अस्पताल पहुँचने के पहले क्लीनिक के सामने दम तोड़ने वाले कोरोना के संदिग्ध मरीज के शव को पी पी ई किट पहनाकर मृतक युवक के शव को नगरपालिका के शव वाहन से उसके घर तक पहुंचाने में सहयोग किया। ग्राम पंचायत दैखल मार्ग बंद करते हुए बाहरी व्यक्तियों का प्रवेश निषेध का चस्पा किया गया और लोगों को भी समझाइश दी गई कि वह सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों का पूर्णता पालन करें।

कोरोना वालटियर रामप्रसाद जयसवाल ग्राम जर्राटोला में निःशुल्क मास्क वितरण किया गया। ग्राम पंचायत देवहरा के इंदिरा नगर बस्ती में कोरोना वालंटियर्स अनिल मिश्रा व सुनित कुमार सिंह द्वारा कोरोना से बचाव के लिए थर्मल स्क्रीनिंग से टेम्प्रेचर लेवल लिया गया। निरंतर पांचवें दिन कोरोना वालंटियर टीम अमलाई कॉलरी द्वारा अमलाई रेल्वे स्टेशन पर थर्मल स्क्रीनिंग किया जा रहा है।

वालंटियर्स संजय शुक्ला, मोहम्मद फिरोज, मनीष चौहान, मयूर सिंह, गोपाल गौतम, निर्भय सिंह कोविड टीकाकरण में सहायता कर रहे है। टीकाकरण केंद्र बिजुरी में कोरोना वालंटियर महेंद्र यादव भी अपनी सेवाएं दे रहे है। प्रणाम नर्मदा युवा संगठन के कोरोना वालेंटियर द्वारा पोडकी में रोको टोको अभियान चलाकर लोगो को मास्क पहनने के लिए प्रेरित कर रहे है। क्योटार में वालेंटियर चन्द्रिका प्रसाद बैरागी अपने ग्राम को कोरोना से बचाने हेतु लगातार प्रयासरत है। वह दीवाल लेखन व सामाजिक दूरी बनाए रखने हेतु महत्वपूर्ण स्थलों पर गोले बना रहे है।

कमेंट करें
oV2hv