खंडार हत्याकांड : एक और आरोपी गिरफ्तार, 29 तक पीसीसार

September 26th, 2021

डिजिटल डेस्क, उमरेड। थाना क्षेत्र में 21 नवंबर 2020 को मौजा पेंढारबोडी तालाब में अनजान युवक का शव मिला था। जांच में बहिनाबाई, उमरेड निवासी शुभम रमेश खंडार (28) की हत्या कर सबूत मिटाने के इरादे से शव फेंकने का खुलासा हुआ था। इस मामले में मृतक के छोटे भाई की रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने गुरुवार 23 सितंबर 2021 को जोगीठाना, उमरेड निवासी संजय भानारकर को गिरफ्तार किया था। जांच के दौरान आरोपी ने आपसी रंजिश में शुभम की हत्या व शव ठिकाने लगाने का गुनाह कबूला। आरोपी संजय को रिमांड में लिया गया। पूछताछ के दौरान इस कार्य में संजय के साला गंगापुर निवासी आशीष उर्फ सोनू प्रमोद डेकाटे (32) शामिल होने की जानकारी दी। इसके बाद शुक्रवार 24 सितंबर 2021 को प्रमोद को गिरफ्तार किया गया। शनिवार को न्यायालय में पेश करने पर उसे 29 सितंबर तक पीसीआर में भेजा गया। मामले में और भी आरोपी बढ़ने की आंशका उमरेड पुलिस ने व्यक्त की है। कार्रवाई  नागपुर ग्रामीण के पुलिस अधीक्षक राकेश ओला, अप्पर पुलिस अधीक्षक राहुल माकणीकर, उपविभागीय पुलिस अधिकारी भीमराव टेले के मार्गदर्शन में उमरेड पुलिस स्टेशन के थानेदार यशवंत सोलसे, पुलिस उपनिरीक्षक बिट्टूलाल पांडे, तारुदत्त बोरसरे, प्रदीप चवरे, भूषण मदनकर, राधेश्याम कांबले, तिलक रामटेके, रूपेश महादुले आदि ने की।

आपराधिक गतिविधियों में लिप्त है आशीष

बताया जा रहा है कि, आशीष उर्फ सोनू डेकाटे की उमरेड के कावरापेठ परिसर मंे नाश्ते की दुकान है। दुकान की आड़ में कुछ साथियों की मदद से सट्टे का व्यापार कर भंडारा-गोदिया में पैसे का  लेनदेन  होने की जानकारी मिली है। कावरापेठ के कुुही चौक और वीडियो चौक  में  आरोपी  और उसके साथियों का बोलबाला है। इसमें कुछ जनप्रतिनिधियों का हाथ होने की जानकारी परिसर के लोगों ने दी हैं। मामले की गहन जांच कर आरोपी द्वारा चलाए जा रहे अवैध धंधों पर अंकुश लगाने की मांग नागरिक कर रहे हैं।