• Dainik Bhaskar Hindi
  • State
  • "Vision Zero Madhya Pradesh scheme's virtual launch by Transport Minister Shri Rajput will help prevent road accidents in the state and save the lives of the injured." Vision Zero MP!

"विजन जीरो म.प्र.!: "विजन जीरो मध्यप्रदेश योजना का परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने किया वर्चुअल लोकार्पण प्रदेश में सड़क दुर्घटना रोकने और घायलों की जान बचाने में मदद करेगा "विजन जीरो म.प्र.!

August 19th, 2021

डिजिटल डेस्क | बालाघाट प्रदेश में सड़क दुर्घटनाएँ रोकने और घायलों की जान बचाने के लिए सुरक्षित परिवहन प्रणाली पर आधारित “विजन जीरो मध्यप्रदेश” योजना तैयार की है। प्रदेश के परिवहन एवं राजस्व विभाग के मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत ने बुधवार को इस योजना का वर्चुअल शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि सभी के सहयोग से “विजन जीरो मध्यप्रदेश” योजना को लागू कर सड़क दुर्घटनाओं पर प्रभावी अंकुश लगाया जा सकेगा। ग्वालियर स्थित भारतीय पर्यटन एवं यात्रा प्रबंधन संस्थान के सभागार में आयोजित कार्यक्रम में पूर्व न्यायाधीश एवं उच्चतम न्यायालय स्तर पर गठित सड़क सुरक्षा समिति के अध्यक्ष श्री अभय मनोहर सप्रे भी बतौर विशिष्ट अतिथि वर्चुअल रूप से शामिल हुए। सड़क सुरक्षा के 5 सूत्र परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने कहा कि आजादी के 75 सालों में जहाँ एक ओर विकास का पहिया निरंतर आगे बढ़ता गया, वहीं सड़क दुर्घटनाओं में भी इजाफा होता गया। उन्होंने कहा कि सड़क दुर्घटनाओं में मध्यप्रदेश देश में दूसरे नम्बर पर है। इसे ध्यान में रखते हुए पाँच स्तम्भों पर आधारित “विजन जीरो मध्यप्रदेश” योजना तैयार की गई है।

इसमें सुरक्षित गति, सुरक्षित रोड, सुरक्षित वाहन, सुरक्षित चालक व्यवहार और दुर्घटना उपरांत सहायता शामिल है। श्री राजपूत ने कहा कि परिवहन के साथ अन्य विभागों के सहयोग से एवं स्वयंसेवी संस्थाओं सहित सम्पूर्ण समाज की भागीदारी से “विजन जीरो मध्यप्रदेश” को अमलीजामा पहनाया जाएगा। इस अवसर पर परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने आह्वान किया कि सड़क दुर्घटनाओं से बचाव के लिये हम सभी को अपनी जिम्मेदारी निभाना होगी। हम सबका नैतिक दायित्व है यदि दुर्घटना हो जाती है, तो मानवता के नाते घायल को जल्द से जल्द अस्पताल पहुँचाएँ, जिससे उसकी जान बचाई जा सके। उन्होंने कहा तभी हम, हमारा परिवार और प्रदेश सुरक्षित रहेगा। उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश श्री अभय मनोहर सप्रे ने मध्यप्रदेश सरकार द्वारा “विजन जीरो मध्यप्रदेश” लागू करने पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि इससे निश्चित ही दुर्घटनाओं में कमी आयेगी। साथ ही दुर्घटनाग्रस्त लोगों का जीवन बचाया जा सकेगा। उन्होंने कहा यह योजना तभी फलीभूत होगी जब प्रदेश का हर नागरिक इसे एक मिशन के रूप में अपनायेगा। सभी को यातायात नियमों का न केवल खुद पालन करना होगा बल्कि दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करना होगा।

तभी हम सड़क दुर्घटनाओं और उनसे होने वाली मौतों में कमी लाने में सफल होंगे। केन्द्रीय भू-तल परिवहन मंत्री श्री गडकरी के वीडियो संदेश भी सुनाया केन्द्रीय भू-तल परिवहन मंत्री श्री नितिन गडकरी के वीडियो संदेश का प्रसारण भी हुआ। उन्होंने अपने वीडियो संदेश के माध्यम से सभी से सड़क सुरक्षा नियमों का पालन करने का आह्वान किया। स्वर्णिम घंटे में घायल को पहुँचाएँ अस्पताल, कोई पूछताछ नहीं होगी परिवहन आयुक्त श्री मुकेश जैन ने कहा कि दुर्घटना के बाद घायल के लिये पहला घंटा स्वर्णिम होता है यदि एक घंटे के भीतर घायल को अस्पताल पहुँचा दिया जाए तो उसकी जान बचाई जा सकती है। घायल व्यक्ति को अस्पताल पहुँचाने में मदद करने वालों से अब कोई पूछताछ नहीं होती अपितु उनका सम्मान किया जाता है। इन्हीं सब बातों को ध्यान में रखते हुए "विजन जीरो मध्यप्रदेश" योजना तैयार की गई है। शपथ भी दिलाई अपर परिवहन आयुक्त परिवहन श्री अरविंद सक्सेना ने सभी प्रतिभागियों को सड़क सुरक्षा नियमों का पालन करने की शपथ दिलाई गई। आरंभ में अतिथियों ने दीप प्रज्ज्वलन एवं कन्या पूजन कर शुभारंभ कार्यक्रम-सह-कार्यशाला का शुभारंभ किया। इस आयोजन में शिक्षकगण, एनसीसी कैडेट्स, स्वयंसेवी एवं व्यापारिक संगठनों के प्रतिनिधिगण तथा विभिन्न विभागों के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...