सीओएफ: रेजरपे ने मल्टी-नेटवर्क टोकन समाधान टोकनएचक्यू किया लॉन्च

October 27th, 2021

डिजिटल डेस्क, बेंगलुरु। वित्तीय समाधान कंपनी रेजरपे ने ग्राहकों के वित्तीय डेटा को सुरक्षित करने के लिए आरबीआई द्वारा हाल ही में जारी दिशानिर्देशों के अनुरूप एक सुरक्षित मल्टी-नेटवर्क कार्ड-ऑन-फाइल (सीओएफ) टोकन समाधान टोकनएचक्यू लॉन्च करने की घोषणा की है।

कंपनी ने कहा कि यह व्यवसायों के लिए एक टर्नकी समाधान होगा, अब अतिरिक्त सुरक्षा के साथ और भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के दिशानिर्देशों के अनुपालन में जिससे उनके अंतिम ग्राहकों को सहेजे गए कार्ड लेनदेन की सुविधा का अनुभव जारी रखने की अनुमति मिलती है।

रेजरपे सीटीपी और सह-संस्थापक शशांक कुमार ने एक बयान में कहा, भारत का पहला मल्टी-नेटवर्क टोकन समाधान, टोकनएचक्यू सभी प्रमुख कार्ड नेटवर्क पर काम करेगा, इस प्रकार भारत में हर व्यवसाय को ग्राहक कार्ड की जानकारी को टोकन करने में सक्षम बनाता है।टोकनएचक्यू मास्टरकार्ड, रुपे और वीजा सहित सभी प्रमुख कार्ड नेटवर्क पर काम करेगा।

रेजरपे की सेवाओं का उपयोग करने वाले 50 लाख व्यवसायों का लगभग पूरा आधार टोकनयुक्त कार्ड लेनदेन का समर्थन करने के लिए तैयार होगा। रेजरपे टोकनएचक्यू का उपयोग करके, व्यवसाय ग्राहकों की सहमति से ऑनलाइन कार्ड भुगतान के लिए टोकन बनाने, संसाधित करने, हटाने और संशोधित करने में सक्षम होंगे।

रेजरपे टोकनएचक्यू कंपनी के मौजूदा ग्राहकों (मानक और कस्टम चेकआउट पर) को शून्य लागत और प्रयास पर कार्ड टोकनाइजेशन का समर्थन करने में सक्षम बनाता है। रेजरपे ने कहा कि कस्टमाइज्ड सेटअप वाले मर्चेट अपने डेवलपर फ्रेंडली एपीआई के जरिए रेजरपे टोकनएचक्यू को तुरंत एकीकृत करना शुरू कर सकते हैं।

पिछले कुछ महीनों में, आरबीआई ने भारत में डिजिटल भुगतान सुरक्षा पर शिकंजा कसते हुए नए दिशानिर्देश पेश किए हैं और रेजरपे ऐसे समाधान पेश करने की दिशा में काम कर रहा है जो बैंकों और व्यवसायों को नई नियामक आवश्यकताओं का अनुपालन करने में मदद करते हैं।

आईएएनएस