comScore

एक दिन में आए 13 पॉजिटिव केस - एक ही परिवार के पांच सदस्य, डॉक्टर नर्स , दो पुलिस कर्मी भी संक्रमित

एक दिन में आए 13 पॉजिटिव केस - एक ही परिवार के पांच सदस्य, डॉक्टर नर्स , दो पुलिस कर्मी भी संक्रमित

 डिजिटल डेस्क  कटनी ।  अनलॉक-2 के 22 वें दिन कटनी में कोरोना ब्लास्ट से जिले में हड़कम्प मच गया। एक दिन में 13 पॉजिटिव केस आने के साथ ही संक्रमितों की संख्या बढ़कर 71 हो गई। आईसीएमआर लैब जबलपुर से 44 सेम्पल की आई रिपोर्ट में पूर्व में पॉजिटिव आए युवक के परिवार के पांच सदस्य, वजयराघवगढ़ अस्पताल की डॉक्टर नर्स, कैमोर थाने के दो सिपाही, प्रावइेट हॉस्पिटल के तीन कर्मचारियों और विजयराघवगढ़ के ग्राम सिजहनी के एक किशोर की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वहीं बुधवार को तीन लोग स्वस्थ्य होकर घर लौटे।
गांधीगंज में
शहर के गांधीगंज में पॉजिटिव आए युवक के परिजनों के सेम्पल की रिपोर्ट ने हड़कम्प मचा दिया। युवक का 60 वर्षीय पिता, 54 वर्षीया मां, 31 वर्षीय भाई, 29 वर्षीया पत्नी एवं साढ़े तीन साल के पुत्र की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। गांधीगंज हल्दीराम गली निवासी के 35 वर्षीय युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर 17 जुलाई को जिला अस्पताल में भर्ती कराया था। यहां पहले से ही कंटेनमेंट एरिया बनाया गया है लेकिन यहां बैरिकेट हटाकर लोग बाहर घूम रहे हैं।
यूपी से लौटे दो और पुलिस कर्मी पॉजिटिव
बरही में हुए फर्नीचर व्यवसायी की हत्या के मामले में आरोपियों को पकडऩे गई पुलिस टीम के दो और सदस्यों के कोरोना संक्रमित होने से पुलिस विभाग में भी हड़कम्प की स्थिति है। सोमवार कोतवाली थाना के एक सिपाही की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद टीम के अन्य सदस्यों के भी सेम्पल लिए गए। जिनमें कैमोर थाने में पदस्थ 35 व 31 वर्षीय  सिपाहियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। पुलिस में संक्रमितों की संख्या तीन हो गई।
 रेलवे अस्पताल भेजे तीन मरीज
कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या के चलते जिला अस्पताल में व्यवस्थाएं बौनी साबित हो रही हैं। जिला अस्पताल में 20 बेड का कोविड-हेल्थ केयर सेंटर बनाया गया है। तीन मरीजों के सुबह डिस्चार्ज होने के बाद यहां 23 मरीज भर्ती थे। एक साथ 13 पॉजिटिव केस आने के बाद तीन मरीजों को रेलवे हॉस्पिटल में शिफ्ट किया गया। प्रभारी सिविल सर्जन डॉ.यशवंत वर्मा के अनुसार मेडिसिन वाले पुराने भवन में 22 बेड खाली रखे गए हैं। पांच अन्य वार्ड भी खाली कराए जा सकते हैं, जिनमें 97 बेड हैं। कोरोना मरीजों की देखरेख में लापरवाही का मामला सामने आया है। कोविड वार्ड में भर्ती मरीजों के मेडिसिन वार्ड में घूमते देखे गए।
डॉक्टर, नर्स,  कंपाउंडर संक्रमित
स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार शासकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र विजयराघवगढ़ की 29 वर्षीया डॉक्टर एवं 36 वर्षीया नर्स के कोरोना संक्रमित होने से लोगों में चिंता बढ़ गई है। वहीं वर्धमान हॉस्पिटल की शेर चौक निवासी नर्स के पॉजिटिव आने पर यहां के स्टाफ के सेम्पल लिए गए थे। जिनमें 26 वर्षीया नर्स और 32 और 29 वर्षीय दो कर्मचारी भी पॉजिटिव निकले।

कमेंट करें
ektnS