दैनिक भास्कर हिंदी: जालसाज दिलशाद के पास 7 एकड़ का आलीशान फार्म हाउस - मामला नौकरी के नाम पर ठगी का

October 23rd, 2019

डिजिटल डेस्क जबलपुर। आयुर्विज्ञान चिकित्सा संस्थान एम्स में नर्स की नौकरी लगवाने के नाम पर नर्सिंग छात्राओं से करोड़ोंं रुपये की जालसाजी करने वाले आरोपी को एसटीएफ भोपाल से जबलपुर लेकर आई। यहाँ जालसाज के अस्पताल व घर में छापामारी कर दस्तावेजों की जाँच की गयी। जाँच में शहर में 4 पत्नियों के नाम पर अलग-अलग 4 मकान होने व 7 एकड़ का फार्म हाउस होने के दस्तावेज मिले हैं, वहीं एसटीएफ ने बैंक संबंधी दस्तावेजोंं को भी जब्त किया है। 
  सूत्रों के अनुसार एम्स में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने के मामले में पकड़े गये जालसाज दिलशाद को भोपाल से जबलपुर लाया गया। यहाँ एसटीएफ टीम ने उसकी व उसकी चारों पत्नियों व रिश्तेदारों के नाम जो भी सम्पत्तियाँ हैं उसका ब्यौरा एकत्र किया। यहाँ पहुँची जाँच टीम ने उसकी अधारताल आदर्श नगर स्थित खिदमद अस्पताल जिसका संचालन उसकी चौथी पत्नी फिरदौस करती है में पहुँचकर बैंक खातों व अन्य दस्तावेज जब्त किए, वहीं व्हीकल स्थित निवास पर भी बारीकी से छानबीन की। करीब 6 घंटे चली पूछताछ और जाँच के बाद जालसाज को वापस भोपाल ले जाया गया है। 
मेडिकल से भी जुड़े तार 
जानकारों के अनुसार एम्स में नर्स भर्ती कराने के नाम पर नर्सिंग छात्राओं को निशाना बनाने वाले दिलशाद से की गयी पूछताछ और दस्तावेजों की जाँच में इस बात का भी खुलासा हुआ है कि उसके द्वारा नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडिकल कॉलेज में भी नर्स भर्ती कराने के नाम पर कई लोगों से पैसे लिए गए हैं। वहीं उसने अपनी बहन और मौसी की भी नौकरी लगवाई है। 
आठ सौ से अधिक से पैसे ऐंठे 
सूत्रों के अनुसार जालसाज के पकड़े जाने के बाद की गयी अब तक की जाँच में इस बात के पुख्ता सबूत मिले हैं कि उसके द्वारा करीब 8 सौ से अधिक नर्सिंग छात्राओं को एम्स व अन्य अस्पतालों में नौकरी दिलाने के नाम पर करोड़ों रुपये वसूले गए हैं। 

खबरें और भी हैं...