comScore

जिला अस्पताल से 80 साल के वृद्ध को दवा देकर घर भेजा, तबियत और बिगड़ी तो जांच में निकला कोरोना पॉजिटिव

जिला अस्पताल से 80 साल के वृद्ध को दवा देकर घर भेजा, तबियत और बिगड़ी तो जांच में निकला कोरोना पॉजिटिव

डिजिटल डेस्क जबलपुर । शहर में मिले चार नए कोरोना पीडि़तों में एक रजा चौक निवासी 80 साल के बुजुर्ग हैं जिनका 50 वर्षीय बेटा कोरोना फाइटर के तौर पर सक्रिय था। परिवार में टेलरिंग का व्यवसाय है जिसमें करीब 12 कर्मचारी कार्यरत हैं। उक्त बुजुर्ग को 10 जून को बुखार और सर्दी की परेशानी हुई, तो रजा चौक स्थित डॉ. यूसुफ रजा के यहाँ इलाज कराया, तीन दिन तक आराम नहीं लगने पर वे 14 जून को मन्नूलाल अस्पताल गए जहाँ एक्सरे के बाद उन्हें विक्टोरिया जाने की सलाह दी गई। वे तुरंत विक्टोरिया की 14 नंबर ओपीडी गए जहाँ उन्हें दवाएँ देकर घर रवाना किया गया।
 अगले दिन 15 जून को तबियत और बिगडऩे पर उन्हें फिर विक्टोरिया लाया गया जहाँ उन्हें भर्ती कर कोरोना सैंपल लिया गया जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उन्हें सुपर स्पेशिएलिटी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। एक अन्य मरीज सेक्टर 2 व्हीकल टाइप 2 निवासी 61 वर्षीय पूर्व अधिकारी 11 जून को चेन्नई से दिल्ली होतेे हुए शहर आए थे। जिला अस्पताल में उन्होंने जाँच कराई तो होम क्वारंटीन के लिए कहा गया। 16 जून को उन्हें तेज बुखार की शिकायत हुई तो विक्टोरिया में भर्ती कर उनकी सैंपलिंग हुई जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि शहर आने के बाद वे होम क्वारंटीन रहे। कछियाना चौक निवासी 19 साल का युवक पॉजिटिव आया है। वह प्रिंटर का व्यवसाय करता है तथा कुछ दिन पहले ही उसकी बहन मंडला से आई है। युवक का बुखार-खाँसी की शिकायत पर विक्टोरिया अस्पताल में जाँच के दौरान सैंपल लिया गया था। वल्दीकोरी की दफाई शीतलामाई निवासी 42 वर्षीय महिला भी बुखार की शिकायत पर इलाज कराने जिला अस्पताल आई थी।

कमेंट करें
bdNqZ