दैनिक भास्कर हिंदी: लखनऊ में अलकायदा के दो आतंकी गिरफ्तार, पुलिस का दावा-यूपी में 15 अगस्त से पहले धमाका करना चाहते थे आतंकी

July 11th, 2021

हाईलाइट

  • पांच आतंकियों के भागने की भी सूचना
  • कश्मीर के एक्यूआईएस मॉड्यूल से जुड़े हैं तार

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। काकोरी थाना क्षेत्र के दुबग्गा इलाके से UP ATS ने दो आतंकियों को अरेस्ट किया है। दोनों 15 अगस्त से पहले प्रदेश में धमाके करने की योजना बना रहे थे। आतंकियों का नाम मिन्हाज अहमद और मसीरुद्दीन है। ये आतंकी अल कायदा से जुड़े अन्सार गजवातुल हिन्द (AGH) संगठन से है। इलाके में अन्य आतंकियों के भी छिपे होने की सूचना है। ऐसे में एटीएस 7 घंटे से भी ज्यादा समय से सर्च ऑपरेशन चला रही है। इसमें ATS कमांडो भी शामिल हैं। ATS को एक गैराज में अलकायदा के आतंकियों के छिपे होने का इनपुट मिला था। इसके बाद ये कार्रवाई की गई है। आतंकियों के ठिकानों से बड़ी मात्रा में गोला-बारूद बरामद किया गया है है।

यूपी ADG प्रशांत कुमार ने बताया कि ATS को खबर मिली थी कि अल कायदा ने उमर हलमण्डी को भारत में आतंक फैलाने के चलाने के निर्देश दिए थे। हलमण्डी पाकिस्तान और अफगानिस्तान बार्डर से आतंकी गतिविधियां संचालित करता है। वह भारत में AQIS संगठन में सदस्यों की भर्ती करने और उन्हें रेडिक्लाइज करने का काम कर रहा था। हलमण्डी ने लखनऊ में अल-कायदा का माड्यूल भी खड़ा कर लिया था। इसके जरिए देश में आतंकी घटनाओं को अंजाम देने की तैयारी थी।

यूपी एडीजी ने बताया, 'धमाके की योजना बनाने में सिराज अहमद का बेटा मिन्हाज अहमद जोकि रिंग रोड का रहने वाला है और अमीनुद्दीन का बेटा मसीरुद्दीन मुख्य भूमिका निभा रहे थे। इस आतंकवादी गिरोह में लखनऊ, कानपुर के इनके अन्य साथी भी शामिल हैं। इन सबके द्वारा उत्तर प्रदेश में मुख्यतः लखनऊ में कभी भी आतंकवादी घटना की जा सकती थी. जानकारी मिलने के बाद गंभीरता को देखते हुए आतंकवादियों की गिरफ्तारी के लिए वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा टीमों का गठन कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए।'

एडीजी ने कहा, 'सर्च ऑपरेशन में विस्फोटक पदार्थ व एक पिस्टल बरामद हुई है, जिसके बारे में और जानकारी इकट्ठा की जा रही है। बरामद आईईडी को बम डिस्पोजल की टीम की मदद से निष्क्रिय कराया जा रहा। दूसरी टीम ने अमीनुद्दीन के घर पर दबिश दी तो आरोपी के घर से भी भारी मात्रा में विस्फोटक पदार्थ बरामद हुआ। यूपी एटीएस संदिग्ध आतंकियों से पूछताछ कर रही है। वहीं, अन्य टीमों द्वारा इन संदिग्ध आतंकवादियों के अन्य सहयोगियों की तलाश हेतु विभिन्न स्थानों पर दबिश दी जा रही है।'

पांच आतंकियों के भागने की भी सूचना
पकड़े गए दो आतंकियों के साथ मौजूद अन्य 5 साथियों के ऑपेरशन से पहले भागने की सूचना है। इसके साथ ही लखनऊ से सटे अन्य जिलों में भी अलर्ट जारी किया गया है। रायबरेली, सीतापुर, बाराबंकी बॉर्डर पर चेकिंग बढ़ा दी गई है। एटीएस की टीम इस ऑपरेशन के लिए बीते 1 सप्ताह से काम कर रही थी।

कश्मीर के एक्यूआईएस मॉड्यूल से जुड़े हैं तार
इन आतंकियों के तार जम्मू-कश्मीर बॉर्डर पर सक्रिय एक्यूआईएस मॉड्यूल से जुड़े हैं। जम्मू में हुए एक ब्लास्ट के बाद लखनऊ में छिपे आतंकियों की जानकारी मिली थी। सूटकेस में पकड़े गए बम भरे जा रहे हैं। काफी मात्रा में विस्फोटक मिल रहा है। शाहिद के मकान से 4 काले सूटकेस में गोला-बारूद भरे गए हैं।

2 प्रेशर कूकर बम भी बरामद हुआ है
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सत्तारूढ़ पार्टी के नेता आतंकियों के निशाने पर थे पूछताछ में यह खुलासा हुआ है। वहीं, पकड़े गए शाहिद के मकान से 2 प्रेशर कुकर बम, टाइम बम बनाने में इस्तेमाल होने वाली 7 किलो विस्फोटक और उससे जुड़ी प्रोडक्ट भी बरामद हुए हैं।

खबरें और भी हैं...