• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Dismissed freight train reached the road, big accident averted, settlement was only 10 feet away

दैनिक भास्कर हिंदी: बेपटरी हुई मालगाड़ी सड़क पर पहुंची, बड़ा हादसा टला, सिर्फ 10 फीट की दूरी पर थी बस्ती 

December 8th, 2019


डिजिटल डेस्क सतना। दक्षिण भारत के सीसीएसबी रेलवे सायडिंग से कोयला लेकर मैहर स्थित रेलवे सायडिंग पहुंची 58 बॉक्सन वैगन की एक मालगाड़ी शंटिंग के दौरान यार्ड की एनसीटी नंबर वन लाइन का डेड इंड तोड़कर सड़क पर आ गई। रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों ने भी माना कि बड़ा हादसा बाल-बाल बच गया। सड़क से हरनामपुर बस्ती की दूरी महज 10 फिट पर है। प्रथमदृष्टया ड्राइवर की लापरवाही के कारण ये हादसा हुआ। घटना की खबर पर तत्काल सतना जंक्शन से दुर्घटना राहत यान भेजा गया।  सीएनडब्ल्यू के स्टाफ की मदद से लगभग 6 घंटे बाद बाधित यातायात बहाल किया जा सका। 
 क्यों आई ये नौबत-
जानकारों ने बताया कि दक्षिण भारत के सीसीएसबी रेलवे सायडिंग से कोयला लेकर 58 बॉक्सन वैगन की मालगाड़ी शनिवार को सुबह साढ़े 8 बजे  मैहर स्थित रेलवे सायडिंग पहुंची थी। सायडिंग हरनामपुर बस्ती से लगी हुई है। मालगाड़ी में एनकेजे के ड्राइवर संतोष कुमार और गार्ड देवेन्द्र कुमार थे।  प्वाइंट मैन शैलेश कुमार की मदद से शटिंग कर मालगाड़ी के 16 वैगन एक लाइन पर काटे गए और शेष 42 वैगन लेकर जैसे ही मालगाड़ी एनसीटी नंबर वन लाइन पर गई, गार्ड ने ड्राइवर को वॉकीटॉकी के जरिए गाड़ी करने का संदेश दिया। ड्राइवर के मुताबिक वो गार्ड के संदेश को समझ नहीं पाया और मालगाड़ी की डेड इंड को तोड़ते हुई सड़क पर पहुंच गई। एक बोगी के 4 चके पटरी से उतर गए। 
 4 सदस्यीय टीम करेगी जांच-
 रेलवे के सीनियर डीओएम ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं। जांच के लिए 
4 सदस्यीय टीम बनाई गई है। टीम में  रेल यातायात टीआई पीके अवस्थी, एलआई बीके गुप्ता, पीडब्ल्यूआई पीके दीक्षित और सीडब्ल्यूआई सुमंत कुमार शामिल किए गए हैं। इससे पहले घटना की खबर मिलने  एरिया मैनेजर मृत्युजंय कुमार, एडीएनई स्वप्निल पाटिल, स्टेशन मैनेजर एमआर मीणा और  रेल यातायात टीआई पीके अवस्थी मौके पर पहुंच गए। सूत्रों ने बताया कि दुर्घटनाग्रस्त मालगाड़ी का डीजल इंजन भी नई तकनीक का था।