दैनिक भास्कर हिंदी: कटनी में है सोने की खदान - हटे आशंका के बादल, इमलिया को बड़ी सौगात

August 9th, 2019

डिजिटल डेस्क, कटनी। जिले में सोने की खदान मिलने की जानकारी से चेहरों में रंगत आ गई। मुख्यालय से लेकर ग्रामीण क्षेत्र में सिर्फ गोल्ड की चर्चा लोगों की जुबान पर रही। स्लीमनाबाद जनपद  के इमलिया क्षेत्र में सोने की चिन्हित खदान देखने के लिए कई लोग पहुंचे। गांव में तो यह खबर मानों अपने साथ अकूत खजाने की चाबी लेकर आ गई। जिस क्षेत्र खदान मिलने की जानकारी जियोजिकल सर्वे ऑफ इंडिया ने की है। उस क्षेत्र के लोग पूरी तरह से जश्न में डुबे रहे। लोग एक-दूसरे को मिलकर बधाई दे रहे थे। जमीन के अंदर की चमक पूरे जिले में रही।

सत्रह वर्ष से अटकलें

इमलिया क्षेत्र में सोना तलाशने का काम करीब 17 वर्ष पहले शुरु किया गया। यहां पर सर्वे कर खनिज पदार्थ होने की संभावना पर काम शुरु किया गया।बीच-बीच में भी यह काम किया गया। लोगों की उम्मीदों को अधिकारियों ने बनाए रखा। जिस पर मुहर हाल ही में लगाते हुए अटकलों को विराम दिया गया। चकरिया गोल्ड ब्लाक में इसके लिए 6.51 हैक्टेयर जमीन रिजर्व किया गया है। यहां पर अयस्क से करीब 20 किलो सोना निकलने की उम्मीद जताई जा रही है।

देश में बनेगी पहचान

खनिज पदार्थों के लिए कटनी जिला देश और विदेश में अलग पहचान रखता है। चूना पदार्थ के रुप में इसकी पहचान आजादी के पहले से है, फिर मार्बल के लिए भी यह जिला अपनी पहचान बना लिया। बाक्साइड अयस्क के रुप में भी जिले की अलग पहचान है। अब सोने की खदान के रुप में फिर से नेशनल लेवल में कटनी अपनी आमद दर्ज कराएगा। नीलाम करने की तैयारी जिस तरह से सरकार ने की है। उससे लोगों को लग रहा है कि जल्द ही इसकी सौगात जिले को मिल सकती है।

चारों तरफ खुशहाली

इस खदान से चारों तरफ खुशहाली ही खुशहाली छाएगी। स्थानीय लोगों के पास जहां रोजगार और स्वरोजगार के साधन होंगे। वहीं क्षेत्र में सुरक्षा की चौकस व्यवस्था भी होगी। खदान के आसपास रहने वाले लोग आजीविका के कई साधन चलाकर रोजगार से जुड़ सकेंगे। इमिलया की कनेक्टविटी भी पहले की अपेक्षा और बेहतर होगी।

इनका कहना है

इमलिया में सोने की खदान को नीलाम करने की तैयारी सरकार ने कर ली है।इसमें अब आगे की प्रक्रिया अधिकारियों के साथ मिलकर की जाएगी। - संतोष सिंह, जिला खनिज अधिकारी

खबरें और भी हैं...