दैनिक भास्कर हिंदी: कटनी - रेत तस्करों का बीट गार्ड पर हमला, बाइक और मोबाइल भी तोड़ा

February 4th, 2021

प्रदेश में ताबड़तोड़ सरकारी कार्रवाई के बावजूद पस्त नहीं हो रहे माफिया के हौसले
करेला सरपंच के भतीजे सहित तीन पर मामला दर्ज
डिजिटल डेस्क कटनी ।
शिवराज सरकार द्वारा प्रदेश में माफिया के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जा रही है। बावजूद इसके माफिया के हौसले अभी पस्त नहीं हुये हैं। ताजा उदाहरण कटनी में देखने को मिला। यहां बरही रेंज में रिजर्व फॉरेस्ट की करेला बीट में वन सीमा के नाले से हो रहे रेत का अवैध उत्खनन रोकने गए बीट गार्ड मुकेंद्र सिंह पिता डेलन सिंह बरकड़े पर सरपंच के भतीजे सहित तीन लोगों ने लोहे की रॉड, लाठी से हमला कर दिया। मंगलवार-बुधवार दरम्यानी रात हुई इस घटना में बीट गार्ड का पैर फ्रैक्चर हो गया। रेत तस्करों ने बीट गार्ड की बाइक और मोबाइल भी तोड़ दिया। बीट गार्ड की शिकायत पर बरही थाने में करेला के सरपंच के भतीजे अतुल सिंह ठाकुर, बाबूलाल कोल सहित तीन आरोपियों के विरुद्ध धारा 341, 186, 353, 332, 294, 506, 427, 34, 3(1)द, 3(1)ध, 3(2) वीए, एससी/एसटी एक्ट के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किया गया है। सभी आरोपी फरार हैं। 
ट्रैक्टर रोकने के प्रयास पर बदमाशों ने कर दिया हमला
जानकारी के मुताबिक, रिजर्व फॉरेस्ट के बीट क्रमांक 485 के गहरा नाले से रेत के अवैध उत्खनन की शिकायत मंगलवार रात वरिष्ठ अधिकारियों को मिली थी। अधिकारियों के निर्देश पर बीट गार्ड मुकेंद्र सिंह मौके पर पहुंचे। बताया जाता है कि मुकेंद्र जब वहां पहुंचा तो आरोपी ट्रैक्टर में रेत भरकर ले जा रहे थे। मुकेंद्र ने ट्रैक्टर रोकने का प्रयास किया तो रेत तस्करों ने उस पर हमला बोल दिया। मुकेंद्र ने मोबाइल से फोटो लेने का प्रयास किया तो आरोपियों ने मोबाइल भी तोड़ दिया। 
घायल बीट गार्ड को बरही अस्पताल में किया भर्ती
बीट गार्ड मुकेंद्र ने रात में ही घटना की सूचना अधिकारियों को दी। सूचना पर रेंजर डॉ. गौरव सक्सेना स्टाफ के साथ मौके पर पहुंचे और घायल मुकेंद्र को उपचार के लिए शासकीय अस्पताल बरही भेजा। बरही थाना प्रभारी संदीप अयाची ने बताया, आरोपियों के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध कर लिया है। इनकी गिरफ्तारी के लिए ठिकानों पर दबिश भी दी जा रही है, लेकिन अभी तक वे हाथ नहीं लगे हैं। थाना प्रभारी के अनुसार इनमें एक आरोपी अतुल सिंह ठाकुर ग्राम पंचायत करेला के सरपंच का भतीजा है।
 

खबरें और भी हैं...