दैनिक भास्कर हिंदी:  130 वर्ष में पहली बार नहीं निकाली भगवान जगन्नाथ स्वामी रथयात्रा 

June 23rd, 2020

डिजिटल डेस्क जबलपुर ।  जबलपुर के इतिहास में 130 वर्ष में पहली बार ऐंसा हो रहा है कि जब भगवान जगन्नाथ स्वामी रथयात्रा नहीं निकाली जा रही है यह लोगों को कोरोना संग्रमण से बचाने के लिए किया जा रहा है । इस संबंध में बताया गया है कि भगवान जगन्नाथ स्वामी रथयात्रा महोत्सव पर आज 23 जून को वात्री साहू समाज द्वारा संचालित श्री जगदीश स्वामी कर्मामाई शंकर भगवान मंदिर ट्रस्ट द्वारा साहू धर्मशाला गढ़ाफाटक में बनाये गए अस्थायी मंदिर में दोपहर 12 बजे भगवान का पूजन अर्चन कर विराजमान किया गया ।
साहू समाज ट्स्र्ट के चौधरी मुकेश साहू ने बताया कि भगवान श्रीकृष्ण का नीलमाधव अवतार श्री जगन्नाथ स्वामी के रूप में अपने भाई बलभद्र और बहिन सुभद्रा के साथ प्रतिवर्ष आषाढ़ शुक्ल की द्वितीया तिथि को रथ के सवार होकर जनता को दर्शन देने निकलते है और जबलपुर में वात्री साहू समाज द्वारा विगत 130 वर्षों से रथयात्रा अनवरत निकाली जा रही है किन्तु इस वर्ष कोरोनॉ संक्रमण की वजह से साहू समाज ने जनहित में निर्णय लेते हुए रथयात्रा न निकालने का निर्णय लिया। चूंकि रथयात्रा नही निकाली जा रही है पर भक्तों के दर्शनार्थ भगवान अपने भाई बहिन के साथ साहू धर्मशाला गढ़ाफाटक में बनाये गए अस्थायी मंदिर में 13 दिन विराजमान रहेंगे, जहाँ प्रतिदिन सुबह 8 से 10 तथा शाम 6:30 बजे से 8:30 बजे तक भगवान के दर्शन होंगे।
ट्स्र्ट के सदस्य श्रीकान्त साहू ने बताया कि समाज के वरिष्ठ जनों की सहमति एवँ प्रशासन के निर्देशानुसार रथयात्रा के पूर्व ही मंदिर को पूरी तरह सेनेटाइज कराते हुए सफाई, साज सज्जा इत्यादि तैयारी पूर्ण कर ली गई है और 23 जून को सुबह 8 बजे से से रात 8:30 बजे तक श्रद्धालु दर्शन हेतु आयेंगे और ट्रस्ट द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सेनेटाइजर करना, मास्क लगाना अनिवार्य करना जैसे निर्णय लिए गए है, साथ ही भगवान को भोग, प्रसाद नही चढ़ाया जाएगा न ही वितरित किया जाएगा।
साहू समाज ट्स्र्ट द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए भगवान के दर्शन पूजन की अपील की गई है।
 

खबरें और भी हैं...