मौत से लोगों में आक्रोश, पुलिस पर ठीक तरह से जाँच नहीं करने का लगाया आरोप, किया प्रदर्शन: बंद कुएँ में मिला लापता बच्ची का शव, हत्या या हादसा जाँच में जुटी पुलिस

December 21st, 2021


डिजिटल डेस्क जबलपुर। रामपुर नगर निगम जोन कार्यालय के पास से रविवार की दोपहर लापता हुई 5 साल की मासूम बच्ची अमोली का शव मंगलवार की सुबह शक्ति नगर रोड ढलान के पास बंद कुएँ में मिला। कुआँ लोहे की जाली से पैक है, इसलिए परिजनों के साथ पुलिस को भी हत्या की आशंका है लेकिन पीएम िरपोर्ट में िकसी तरह की चोट न मिलने और मौत की वजह पानी में डूबने से होना पाया गया है। इसके कारण बच्ची की मौत की असली वजह सामने नहीं आ पाई है। फिलहाल पुलिस ने मर्ग कायम करते हुए छानबीन शुरू कर दी है।
इधर बच्ची की मौत से पूरा मोहल्ला आक्रोशित हो गया और लोगों ने पुलिस पर ठीक तरह से जाँच नहीं करने का आरोप लगाते हुए रामपुर चौक पर शव रखकर प्रदर्शन किया, जिसके कारण करीब एक घंटे तक जाम के हालात बने रहे। लोगों ने इस मामले की िनष्पक्षता से जाँच करने की माँग की है। लोगों का यह भी आरोप था िक कई बार क्षेत्र में पुलिस चौकी बनाए जाने की माँग की गई लेकिन पुलिस ने ध्यान नहीं दिया।
उल्लेखनीय है कि नगर निगम जोन कार्यालय-3 के समीप रहने वाले मूलचंद प्रजापति की 5 वर्षीय बेटी अमोली रविवार की दोपहर 2 बजे खेलते-खेलते घर से अचानक गायब हो गई थी। परिजनों ने बच्ची की तलाश करने के साथ रामपुर चौकी में सूचना दी थी, जिसके बाद पुलिस ने अपहरण का प्रकरण दर्ज किया था। एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा के िनर्देश पर कई टीमें बच्ची की तलाश में जानकारियाँ जुटा रही थीं। मंगलवार को कुएँ के समीप स्थित हनुमान मंदिर में दर्शन करने पहुँचे कुछ लोगों ने बच्ची का शव उतराता देखकर उसके परिजनों को सूचना दी और िफर पुलिस पहुँची।
इसलिए हो रहा हत्या का शक
प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार जिस कुएँ में बच्ची का शव मिला है, उसमें ऊपर से लोहे की भारी-भरकम जाली का ढक्कन लगा हुआ है, जिसे खोलने में काफी ताकत लगती है। इसलिए बच्ची खेलने के दौरान नहीं बल्कि उसे अगवा करने वालों ने मारने के बाद कुएँ में फेंका होगा। कुछ लोगों का यह भी कहना था िक बच्ची को िजंदा ही कुएँ में फेंक दिया गया होगा।
यह भी लगाया जा रहा अनुमान
पुलिस सूत्रों के अनुसार जाँच के दौरान बंद कुएँ के समीप स्थित एक दुकान संचालक ने पूछताछ में रविवार की दोपहर अमोली के साथ मोहल्ले के कई बच्चों के वहाँ खेलने की पुष्टि की। जिन बच्चों के साथ अमोली खेल रही थी, उन्होंने बताया िक वे लोग लुका-झिपी खेल रहे थे। पूछताछ में यह भी पता चला कि इस रोड पर िदन भर चहल-पहल थी, हनुमान मंदिर में आने वाले कई लोगों ने पूजन के लिए कुएँ से पानी िनकाला था। इससे इस बात का अनुमान लगाया जा रहा है कि रविवार को किसी ने पानी िनकाला हो और ढक्कन लगाना भूल गया हो और खेलते समय अमोली कुएँ में िगर गई हो। हालाँकि पुलिस हर पहलू पर बारीकी से जाँच कर रही है।

खबरें और भी हैं...