दैनिक भास्कर हिंदी: नरेंद्र पाटील ने छोड़ी एनसीपी, बीजेपी ने बनाया महामंडल अध्यक्ष 

September 4th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। राज्य सरकार द्वारा अन्ना साहेब साठे आर्थिक विकास महामंडल के अध्यक्ष बनाए जाने के बाद राकांपा के पूर्व विधायक नरेंद्र पाटील ने राकांपा से इस्तीफा दे दिया है। वे जल्द ही भाजपा में शामिल हो जाएंगे। महामंडल मिलने के बाद से उनका भाजपा में जाना तय हो गया था। राकांपा अध्यक्ष शरद पवार को भेजे गए अपने इस्तीफे में पाटील ने कहा है कि मैं राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की सदस्यता और पार्टी के लेबर सेल अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे रहा हूं। पार्टी में कार्य करने के दौरान आपके सहयोग के लिए धन्यवाद। नरेंद्र पाटील मथाडी कामगार संगठन के संस्थापक अन्ना साहेब पाटील के पुत्र हैं। इसके पहले वे विधानपरिषद सदस्य रह चुके हैं। 

राष्ट्रवादी कांग्रेस छोड़ने के सवाल पर पाटील ने कहा कि राज्य सरकार ने मेरे पिताजी अण्णासाहब पाटील के नाम पर आर्थिक विकास महामंडल बनाया है। भाजपा ने मुझे इस महामंडल के अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी सौंपी है। मुझे इस महामंडल के जरिए मराठा समाज के युवाओं और माथाड़ी कामगारों के लिए काम करना है। इसलिए मैंने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी छोड़ने का फैसला किया है। पाटील ने कहा कि मैं राष्ट्रवादी कांग्रेस में रहकर फिर से विधान परिषद का टिकट लेकर विधायक बन सकता था, लेकिन मेरे लिए महामंडल का काम ज्यादा महत्वपूर्ण है। पाटील ने भाजपा में शामिल होने के सवाल पर कहा कि इस बारे में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और प्रदेश अध्यक्ष रावसाहब दानवे फैसला लेंगे।

दूसरे दल को तोड़कर ही बनी थी राकांपा: मुनगंटीवार
वहीं राष्ट्रवादी कांग्रेस के नेताओं को तोड़ने के आरोप पर भाजपा नेता व प्रदेश के वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने कहा कि राष्ट्रवादी कांग्रेस का जन्म ही नैसर्गिक रूप से नहीं हुआ है। कांग्रेस को तोड़ कर राष्ट्रवादी कांग्रेस बनाई गई है। इसलिए भाजपा पर तोड़ने का आरोप कैसे लगाया जा सकता है। मुनगंटीवार ने कहा कि राष्ट्रवादी कांग्रेस के नेताओं का याद करना चाहिए कि उन्होंने मौजूदा विधान परिषद में विपक्ष के नेता धनंजय मुंडे को भाजपा से राष्ट्रवादी कांग्रेस में शामिल कराया था। 
 

खबरें और भी हैं...