comScore

तोहफा के नाम पर ऑनलाइन धोखा, हैकर को दबोचा

तोहफा के नाम पर ऑनलाइन धोखा, हैकर को दबोचा


डिजिटल डेस्क जबलपुर। तोहफा एप के जरिये लोगों की आईडी हैक करने वाले रांझी थाना क्षेत्र के गोकलपुर में रहने वाले आशीष वर्मा को राज्य साइबर जबलपुर जोन  ने गिरफ्तार कर लिया है। तोहफा एप के जरिये आशीष वर्मा ने लोगों की आईडी हैक कर उनके खाते से पैसे निकाल लिये। लोग उस समय ठगे जाते जब वे अपने किसी परिचित को केक व गिफ्ट भेजते थे। उसने मोबाइल की खरीदी हैक किये गए अकाउंट से की थी  और उसे बेच दिया। उससे और भी मामले उजागर होने की उम्मीद है। 
इस मामले में राज्य साइबर जबलपुर जोन के एसपी अंकित शुक्ला ने पत्रकारों से चर्चा में जानकारी दी है कि आशीष वर्मा जो कि हैकर है और कम्प्यूटर साइंस से डिप्लोमाधारी है, उसने यू ट्यूब से धोखाधड़ी  सीखी थी। उसके द्वारा तोहफा एप के माध्यम से जानकारियाँ हासिल  करके धोखाधड़ी की जाती थी।  व्यक्ति डाउनलोड करते थे उनकी जानकारी हैकर आशीष वर्मा के पास पहुँच जाती थी। वह उस जानकारी के आधार पर बैक अकाउंट का  ओटीपी हासिल कर धोखाधड़ी करता था। 
ई-मेल आईडी की हैक -
 इस मामले का खुलासा प्रणव कुमार द्वारा की गई शिकायत के बाद हुआ। प्रणव कुमार के डेबिट कार्ड से खरीददारी के बाद इस मामले की जाँच विपिन ताम्रकार, श्वेता सिंह, हेमन्त पाठक, मनीष उपाध्याय, शुभम सैनी, अजीत गौतम की टीम ने तकनीकी विशेषज्ञों के साथ कर इस मामले का पता लगाया। उन्हें जानकारी मिली है कि आशीष वर्मा लोगों की आईडी हैक कर धोखेबाजी कर रहा है। उसके कम्प्यूटर में लोगों के मेल एवं मैसेज भी मिले। उसने स्वीकार किया है कि वह हैकिंग के जरिये लोगों के साथ धोखाधड़ी कर रहा था। 
60 से अधिक आईडी हैक -
 जाँच में पता चला है कि आशीष वर्मा ने 60 से अधिक आईडी हैक करके रखी थी और उनके जरिये ही लोगों को धोखा देने की योजना बना रहा था। साइबर क्राइम की टीम के कारण उसके मंसूबे पर पानी फिर गया।

कमेंट करें
bHoDR