comScore

सतना में गर्वमेंट मेडिकल कॉलेज खुलने का रास्ता साफ - कलेक्टर ने आवंटित की भूमि 

सतना में गर्वमेंट मेडिकल कॉलेज खुलने का रास्ता साफ - कलेक्टर ने आवंटित की भूमि 

डिजिटल डेस्क सतना। जिला मुख्यालय में प्रस्तावित गर्वमेंट मेडिकल कॉलेज के लिए अब जमीन का संकट नहीं रह गया है। शुक्रवार को जिला मजिस्ट्रेट और कलेक्टर डॉ.सतेन्द्र सिंह ने मेडिकल कालेज के लिए वांछित 8.67 एकड़ शेष जमीन भी आवंटित कर दी। 
 

कब्जा सौंपने एसडीएम को निर्देश 
इस संबंध में जारी एक आदेश के मुताबिक कृपालपुर की सरकारी आराजी नंबर 91 का 0.150 हेक्टेयर, आराजी नंबर 93 का  0.632 हेक्टेयर , आराजी नंबर 151 0.243 हेक्टेयर , आराजी नंबर  94/1 का 2.243 हेक्टेयर, आराजी नंबर 136 का 0.243 हेक्टेयर यानि  कुल  8.67 एकड़ भूमि शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय के नाम आवंटित की गई है। कलेक्टर ने इस संदर्भ में रघुराजनगर के एसडीएम को निर्देशित किया है कि वे आवंटित भूमि के अभिलेख दुरुस्त कराते हुए मौके पर जाकर कब्जा सौंपने की कार्रवाई सुनिश्चित करें। 
 

और, अब सरप्लस 
उल्लेखनीय है, जिला मुख्यालय के कृपालपुर में प्रस्तावित शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय के लिए 45.22 एकड़ भूमि चाही गई थी। जिसमें से 37.72 एकड़ भूमि का आवंटन पहले ही किया जा चुका था। शेष 7.05 एकड़ भूमि की दरकार थी। शुक्रवार को कलेक्टर ने मेडिकल कालेज के प्रयोजन से 8.67 एकड़ भूमि आवंटित कर दी। यानि मौजूदा समय में मेडिकल कालेज के लिए 1.17 एकड़ भूमि सरप्लस हो गई है। माना जा रहा है कि अतिरिक्त भूमि की भविष्य में विस्तार योजना के तहत जरुरत पड़ सकती है। 

पीआईयू ने गर्ल्स हॉस्टल भी छोड़ा 

इसी बीच मेडिकल कालेज की निर्माण एजेंसी पीआईयू ने भी वांछित भूमि की जरुरत को पूरा करने के लिए कृपालपुर में प्रस्तावित आदिवासी गर्ल्स छात्रावास कहीं और शिफ्ट करने का फैसला लिया है। उल्लेखनीय है, शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय से लगी 2.05 एकड़ भूमि पर पीडब्ल्यूडी की पीआईयू 1 करोड़ 96 लाख की लागत से 120 बेड का गर्ल्स हॉस्टल बना रही थी।  प्रस्तावित मेडिकल कालेज के लिए शेष भूमि के आवंटन के लिए विंध्य चेंबर ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्रीज ने कलेक्टर को चिट्ठी लिखी थी। चेंबर अध्यक्ष द्वारिका गुप्ता और महामंत्री ऋषि अग्रवाल ने कलेक्टर डा. सतेन्द्र सिंह के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया है।

संघर्ष समिति ने भी सौंपा ज्ञापन 

इसी बीच शुक्रवार को यहां मेडिकल कालेज संघर्ष समिति के संयोजक राजीव खरे के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल ने भी जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंप कर आंदोलन की चेतावनी दी थी। प्रतिनिधि मंडल में हरि प्रकाश गोस्वामी, अरुण भारतीय, संजय सिंह तोमर, योगेश शर्मा, भूपेश दयाल सिंह, प्रमेन्द्र गौतम, संजय बांका, विपिन अरजरिया और संजीव मिश्रा भी शामिल थे। संघर्ष समिति ने शेष भूमि के आवंटन पर समिति ने भी खुशी जताई है।

कमेंट करें
JBCTX