comScore

बांग्लादेशी डकैत का प्रोडेक्शन वारंट मिला, जबलपुर लाया जाएगा 

बांग्लादेशी डकैत का प्रोडेक्शन वारंट मिला, जबलपुर लाया जाएगा 

डिजिटल डेस्क जबलपुर। बांग्लादेशी डकैत मनिक सरकार उर्फ मोटू का ओमती पुलिस ने प्रोडेक्शन वारंट हासिल कर लिया है। अब मोटू सरकार को कुन्नूर से लाने के लिए एक टीम भी रवाना कर दी गई है। यह टीम मोटू को तीन दिन के भीतर जबलपुर लायेगी और फिर उससे पूछताछ का सिलसिला चलेगा। उससे जबलपुर के अलावा कटनी की कुल आधा दर्जन डकैतियों के बारे में पूछताछ की जानी है। इस संबंध में एसपी अमित िसंह ने जानकारी दी  है कि अभी केवल मोटू सरकार के लिए ही प्रोडेक्शन वारंट लिया गया है। इसका एक और साथी इलियास को जो कि बाद में पकड़ा गया था अभी उसका प्रोडेक्शन वारंट नहीं लिया गया है। मोटू सरकार डकैत गिरोह का सरगना है। उसने जबलपुर को अपना निशाना बना रखा था। पहली डकैती उसने 21 अप्रैल 2015 में केंट थाना क्षेत्र के कटंगा में पुष्पा वेरी के यहाँ पर डाली थी। उसके बाद दूसरी डकैती 13 मई 2016 में स्नेह नगर में मनोज मिश्रा के यहाँ पर डाली थी। इसके बाद 14 मई को ही ओमती क्षेत्र में रामगोपाल गुप्ता के घर पर की थी। उसके बाद 11 नवम्बर 2016 को संजीवनपीर नगर में हर्षवर्धन शुक्ला के घर पर डाली थी। इस गिरोह ने कटनी में डकैती की घटना को अंजाम दिया था, उसके बाद  नेपियर टाउन में कलर लैब संचालक निखिल अग्रवाल के घर पर 7 मई 2018 को डकैती डाली थी। 
 

कमेंट करें
qYxt5