comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

रेत घाटों से उत्खनन बंद , आर्थिक सत्र में तीन वर्ष के लिए होगी घाटों की नीलामी

रेत घाटों से उत्खनन बंद , आर्थिक सत्र में तीन वर्ष के लिए होगी घाटों की नीलामी

डिजिटल डेस्क, गोंदिया। जिले के सभी रेत घाटों से प्रतिवर्ष के अनुसार इस वर्ष भी 30  सितंबर से उत्खनन बंद किये जा रहे हैं। जिसके पश्चात आगामी वर्ष के लिए 1 अक्तूबर से घाटों की नीलामी प्रक्रिया शुरू होगी। जिसमें शासन से आदेशानुसार तीन वर्षों के लिए घाटों की  नीलामी की जाएगी। गौरतलब है कि जिले के रेत घाटों से रेत निकालने की अंतिम तारीख 30 सितंबर होने  से आज  से सभी रेत घाटों का उत्खनन बंद हो जाएगा।  गोंदिया जिले में वर्ष 2018-19  के दौरान 18 रेत घाटों की  नीलामी हुई थी। जिनसे रेत का उत्खनन किया जा रहा था।

आगामी वर्ष के लिए 1 अक्तूबर से रेत घाटों की  नीलामी प्रक्रिया शुरू की जाएगी। लेकिन इस वर्ष राज्य में विधानसभा चुनाव के चलते सभी अधिकारी व कर्मचारी चुनावी कार्यक्रम में व्यस्त होने के कारण यह सारी प्रक्रिया एक माह  के लिए विलंब से प्रारंभ होने की संभावना  जताई जा रही है। विशेष यह है कि अब तक रेती घाटों की नीलामी एक वर्ष के लिए ही की जाती थी। जिससे अधिकांश समय घाटों की नीलामी प्रक्रिया में ही चला जाता था। लेकिन अब राज्य सरकार द्वारा 3 सितंबर २०१९ को जारी शासनादेश के अनुसार आगामी सत्र के लिए अब तीन वर्षों के लिए रेती घाटों की नीलामी की जाएगी। जिसमें रेत बालु धोरण के अनुसार दूसरे व तीसरे वर्ष में 6 प्रतिशत की बढ़ोतरी राजस्व में की जाएगी। जिसके चलते रेती घाटों की नीलामी में प्रतिवर्ष होनेवाली प्रक्रिया के चलते होनेवाले विलंब में कमी आएगी। 

नए सत्र की तैयारियां शुरू

रेत घाट की नीलामी के लिए जिला प्रशासन द्वारा तैयारियां शुरू की गई है। जिसके लिए सभी तहसीलों से जानकारी बुलाई गई है। जानकारी प्राप्त होने के पश्चात प्रस्ताव की जांच कर रेत घाटों की नीलामी की जाएगी। आगामी सत्र के लिए शासन द्वारा तीन  वर्षों के लिए नीलामी की मंजूरी दी जा रही है। 
आर.एल.गजभिये,  जिला खनिकर्म अधिकारी, गोंदिया
 

कमेंट करें
TvlkV