दैनिक भास्कर हिंदी: स्कूल छोड़ने के बहाने किशोरी को अगवा कर बनाया हवस का शिकार

November 17th, 2017

डिजिटल डेस्क सतना। सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र में किशोरी को अगवा कर हवस का शिकार बनाने का मामला सामने आया है। जिस पर कायमी कर पुलिस आरोपी की तलाश में जुट गयी है। टीआई डॉ.राघवेन्द्र द्विवेदी से मिली जानकारी के मुताबिक 14 वर्षीय किशोरी 3 दिन पहले घर से स्कूल जाने के लिए निकली थी। लेकिन शाम को वापस नहीं लौटी तो परिजन ने सभी जगह तलाश के बाद थाने पहुंचकर शिकायत की जिस पर आईपीसी की धारा 363 का मुकदमा दर्ज कर लिया गया। पुलिस ने भी खोजने की थोड़ी बहुत कोशिश की जिसमें सफलता नहीं मिली। इस बीच बुधवार शाम को किशोरी अचानक घर लौट आयी तब परिजन उसे थाने ले गए।
तब दर्ज किया दुष्कर्म का मामला
जहां अपने बयान में किशोरी ने बताया कि पूनम भवन धवारी में रहने वाला प्रशांत चौरसिया पुत्र संतोष 22 वर्ष उसे स्कूल के रास्ते में मिला था जिसने स्कूल छोडऩे के बहाने बाइक पर बैठा लिया और बहला-फुसलाकर सलेहा की तरफ ले गया जहां डरा धमका कर कई बार हवस का शिकार बनाया। लगातार विरोध करने पर आरोपी ने गुरुवार शाम को उसे धवारी के पास छोड़ दिया और कही चला गया। तब पीडि़ता के बयान व एमएलसी के आधार पर धारा 366, 376 आईपीसी एवं पास्को एक्ट 2012 की धारा बढ़ा दी गयी। फिलहाल आरोपी को पकड़ा नहीं जा सका है।
नवविवाहिता से ज्यादती का आरोपी धराया- नवविवाहिता से दुष्कर्म के आरोपी को अमदरा पुलिस ने गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे पहुंचा दिया। थाना प्रभारी आरपी मिश्रा के मुताबिक अपने बड़े भाई की पत्नी को सात माह तक डरा-धमका कर हवस का शिकार बनाने वाले आरोपी बृजगोपाल रजक पुत्र श्याम लाल 25 वर्ष के विरुद्ध 11 नवम्बर को 24 वर्षीय पीडि़ता ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी तब आईपीसी की धारा 376 (2) (घ) 506 के तहत कायमी की गयी थी लेकिन आरोपी को इसकी भनक लग गयी तो वह भूमिगत हो गया था। कई दिन तक छिपे रहने के बाद बुधवार देर रात बाहर भागने की फिराक में रेलवे स्टेशन पहुंच गया। तब मुखबिर से मिली सूचना पर पुलिस ने छापा मारकर स्टेशन के पास से आरोपी को दबोच लिया। जिसे गुरुवार सुबह कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया।