दैनिक भास्कर हिंदी: चैतन्य देवियों की झॉकी : एकाग्रता से देवी रूप में विराजमान हैं ब्रह्माकुमारी बहनें

October 5th, 2019

डिजिटल डेस्क जबलपुर । चैतन्य देवियों की झॉकी में देवियो के रूप में विराजमान ब्रह्माकुमारी बहनों ने अनेक वर्षों के राजयोग के अभ्यास के फलस्वरूप ऐसी एकाग्रता की स्थिति प्राप्त कर ली हैं कि वे कई घण्टे तक एक ही मुद्रा में अचल बैठ सकती हैं। राजयोग के माध्यम से कर्मेंद्रियों पर सहज नियंत्रण किया जा सकता हैं। झॉकी में एक ही मुद्रा में एकटक बिना पलकें झपके बैठनें वाली राजयोग का अभ्यास करने वाली ब्रह्माकुमारी बहनों के दैवी स्वरूप का दर्शन करनें के लिये बड़ी संख्या में श्रद्धालु आ रहे हैं। और दर्शन करने वाले आपस में यह चर्चा जरूर करते पाये जाते हैं कि ये चैतन्य देवियॉ हैं कि देवी की प्रतिमायें है।
राजयोग का नियमित अभ्यास करना चाहिये
इस अवसर पर वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका ब्र.कु. विमला बहन जी ने नवरात्रि का आध्यात्मिक महत्व बताते हुये कहा कि नवरात्रि के त्यौहार में नौ देवियों का आव्हान कर के काम क्रोध  लोभ मोह और अहंकार रूपी असुरों से छुटकारा पाने को प्रयास करते हैं, किन्तु देखनें मे यह आता हैं कि  यह बुराईयॉ मनुष्यों में बढती ही जा रही हैं जिसके कारण  से विश्व में दुख अशांति असंतुष्टता बढती ही जा रही हैं। आपने आगे कहा कि देवियों की पूजा अर्चना के साथ साथ हमें अपने जीवन से सदा के लिये विकारों का निकालने के लिये राजयोग का नियमित अभ्यास करना चाहिये।

खबरें और भी हैं...