फर्जी आईडी लगाकर ली थी किराए पर दुकान: सिरफिरे ने खोला राज, नेट से आइडिया लेकर करता था ठगी

November 23rd, 2022

डिजिटल डेस्क जबलपुर। तिलवारा थाना क्षेत्र के ग्राम घाना स्थित मेखला रिसॉर्ट में 21 वर्षीय युवती की हत्या करने वाला सनकी हत्यारा अभिजीत उर्फ हेमंत दहाणे कोतवाली पुलिस की रिमांड पर है। रिमांड के दौरान की गई पूछताछ में उसने कबूल किया कि ठगी का तरीका उसने इंटरनेट से खोजा था। उसने फर्जी आईडी से अभिजीत पाटीदार के नाम से चेरीताल में राजेंद्र नरवरिया की दुकान किराए से ली थी। उस दुकान से कारोबार करते हुए उसने तेल व शक्कर व्यापारी से साढ़े 8 लाख की ठगी की थी।
सूत्रों के अनुसार युवती की निर्मम तरीके से हत्या के मामले में गिरफ्तार किए गये आरोपी को कोतवाली पुलिस ने ठगी के मामले में पूछताछ करने के लिए 5 दिन की रिमांड पर लिया है। रिमांड के दौरान पुलिस अधिकारी लगातार उससे सघन पूछताछ कर यह पता लगाने में जुटे हैं कि उसने गलगला क्षेत्र के व्यापारी मनीष चिमनानी से जो माल लिया था वह कहाँ और किस व्यापारी के पास खपाया था, वहीं उससे इस बात का पता लगाया जा रहा है कि उसने कितने लोगों को अपना निशाना बनाया है और कहाँ-कहाँ ठगी की वारदातें की हैं।
शेयर कारोबार में हुआ नुकसान
पूछताछ में आरोपी ने बताया कि शुरुआती दौर में उसने शेयर बाजार में पैसा निवेश किया था जिसमें उसे काफी नुकसान हुआ था और उसकी पूरी जमा पूँजी उसमें डूब गई थी। उसके बाद उसने अपराध की ओर कदम बढ़ाया और शातिर वाहन चोर बन गया। उसने 3 दर्जन से अधिक वाहन चोरी किए और इन वाहनों को बेचकर 10 से 12 लाख रुपये कमाए थे।
कर्नाटक तक फैला था नेटवर्क
पूछताछ में आरोपी ने बताया कि नासिक के अलावा उसने पुणे व कर्नाटक तक अपना नेटवर्क खड़ा कर लिया था और इन स्थानों पर आपराधिक वारदात करता था। वहीं जबलपुर आने के बाद युुवती से संपर्क हुआ था। उसके बाद वह युवती को बिहार, मुंबई सहित कई स्थानों पर घुमाने ले गया था। पुलिस आरोपी से हत्याकांड से जुड़े सबूतों का भी पता लगा रही है।