बलिया: जननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय की तीन सदस्यीय शैक्षणिक टीम की अहमदाबाद, गुजरात राज्य से वापसी

July 16th, 2022

डिजिटल डेस्क, बलिया। जननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय की तीन सदस्यीय शैक्षणिक टीम  ई o डी० आई. आई अहमदाबाद, गुजरात  राज्य में  शामिल होकर नई शिक्षा नीति के तहत विश्वविद्यालय में छात्रों का विकास और भविष्य में रोजगार परक शिक्षा प्रदान करने के लिए महत्वपूर्ण चर्चा की गई है।
निदेशक शैक्षणिक और टीम की प्रमुख डॉक्टर पुष्पा मिश्रा ने बताया कि अहमदाबाद शैक्षणिक संस्थान में  पांच दिनों तक नई शिक्षा नीति 2020 में निर्देशों को ध्यान में रखकर अनेक शिक्षाविद के बीच विचार विमर्श हुआ।

उन्होंने कहा कि हमें आत्मनिर्भर बनने के लिए उद्यमिता को छात्र जीवन से ही अपनाना होगा ।डॉक्टर मिश्रा ने कहा कि वर्तमान में विवि का नेतृत्व जागरूक एवं अग्रसर है, जो की एक शुभ संकेत हैं। इस कार्यक्रम में शैक्षिक संस्थानों के प्राध्यापकों को जागरूक करने के उद्देश्य से  किया गया। इस 5 दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के 5 विश्वविद्यालय एवं छत्तीसगढ़ के एक प्रौद्योगिकी संस्थान से कुल 20 प्रतिभागी शामिल रहे। जिनमे भीमराव अम्बेडकर विश्वविद्यालय, लखनऊ से 5, दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय, गोरखपुर से 6, महायोगी गोरखनाथ विश्वविद्यालय, गोरखपुर से 1, वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय, जौनपुर से 3, जननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय, बलिया से 3, नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, रायपुर छत्तीसगढ़ से 2 प्रतिभागी ईडीआईआई में एंटरप्रेन्योरशिप एजुकेटर्स ओरिएंटेशन प्रोग्राम की ट्रेनिंग प्राप्त किया। जिससे वो अपने विवि में मेंटरशिप कर सकें। इस 5 दिवसीय कार्यक्रम का उदेश्य प्रतिभागियों को वर्तमान में उद्यमिता की संभावनाएं केंद्र व राज्य सरकार द्वारा चल रही विभिन्न वित्तीय सहायता की योजनाओ, छात्रों हेतु नए कोर्स बनाया जाना, छात्रों के आईडिया को स्टार्टअप हेतु चयनित करना, इन्क्यूबेशन व प्री-इन्क्यूबेशन की प्रणाली और संस्थान के अन्दर उद्यमिता का वातावरण विकसित करना है।जननायक चंद्रशेखर विश्वविद्यालय के अन्य शैक्षणिक सदस्य उद्यान विज्ञान विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ लालविजय सिंह और असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ अमित कुमार सिंह द्वारा महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन किया गया।