दैनिक भास्कर हिंदी: रुपए की लालच ने बना दिया लुटेरा, आंखों में मिर्च डालकर लूट लिया था मोबाइल, आरोपी गिरफ्तार

December 19th, 2018

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। जल्द रुपए कमाने की लालच ने दो दोस्तों को लुटेरा बना दिया। दोनों दोस्तों ने मिलकर पहले योजना बनायी, फिर लूट की वारदात को अंजाम दिया। योजना के मुताबिक पहले दोस्तों ने महंगा मोबाइल बुक किया और जब डिलेवरी देने युवक आया, तो उसकी आंखों में मिर्च डालकर मोबाइल लेकर भाग गए। पुलिस ने मामले की विवेचना करते हुए दोनों आरोपी दोस्तों को गिरफ्तार कर लिया।

मोबाइल बेचने की फि राक में थे आरोपी
जानकारी के अनुसार क्राईम ब्रांच की टीम को मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि एक युवक नया मंहगा मोबाइल को बेचने की फिराक में ग्वारीघाट गीताघाम के आगे मैदान में खड़ा है। सूचना पर क्राईम ब्रांच एवं थाना गोरखपुर की संयुक्त टीम ने दबिश देते हुए मुखबिर के बताए हुलिए के युवक को घेराबंदी कर पकड़ा नाम पता पूछने पर उसने अपना नाम पंकज जसवानी बताया, तलाशी ली गयी, तो पैंट की जेब में सैमसंग गैलैक्सी ए-9-128 जी.बी. लैमोनेट ब्लू कलर का रखे हुये मिला।

पूछताछ के बाद खोल दिया राज
पुलिस ने बताया कि पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि अपने दोस्त जावेद के साथ मिलकर 17 दिसंबर को डिलेवरी ब्वाय की आंख में मिर्च डालकर मोबाइल छीनकर भाग गए थे। जावेद खान उर्फ नबाब उर्फ हैदर को सरगर्मी से तलाश कर अभिरक्षा में लिया गया है। आरोपियों से सख्ती से पूछताछ की जा रही है। पूछताछ के बाद और भी मामलों का खुलासा हो सकता है।

जूतों की दुकान चलाता है आरोपी
आरोपी पंकज जसवानी ग्वारीघाट स्थित भीम नगर मे जूते की दुकान चलाता है। उसका दोस्त जावेद बेरोजगार है। दोनों साथ मे पढ़े हैं। दोनों ने प्लान बनाया था कि मंहगा मोबाइल बुक कर छीनेंगे बाद मे मोबाइल को बेचकर पैसा आपस मे बांट लेंगे। अभी तक की तस्दीक में पकड़े गये देनो आरोपियों का कोई आपराधिक रिकार्ड नहीं होना पाया गया है। रुपए की लालच मे पहली बार लूट की घटना को अंजाम दिया और पकड़े गये।

एसपी ने की पुरस्कृत करने की घोषणा
सनसनीखेज लूट की घटना का पर्दाफाश करने में थाना प्रभारी गोरखपुर उमेश तिवारी, क्राईम ब्रांच की टीम के प्रधान आरक्षक धनंजय सिंह, विजय शुक्ला आरक्षक ब्रम्ह प्रकाश, बीरबल, मोहित उपाध्याय तथा थाना गोरखपुर के सउनि. राजेश कुमार अहिरवार, आरक्षक कन्छेदी पटेल, सतीश शुक्ला की सराहनीय भूमिका रही। पुलिस अधीक्षक जबलपुर अमित सिंह (भा.पु.से.) ने टीम को नगद पुरस्कार से पुरस्कृत करने की घोषणा की है।