comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

Fake News: हैदराबाद एनकाउंटर के नाम पर पुरानी तस्वीर हुई वायरल

Fake News: हैदराबाद एनकाउंटर के नाम पर पुरानी तस्वीर हुई वायरल

डिजिटल डेस्क। हैदराबाद में महिला डॉक्टर के साथ दुष्कर्म और जलाकर मारने वाले चारों आरोपियों को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया। आरोपियों के मारे जाने पर पुलिस की तारीफ हो रही है। वहीं कुछ लोग इस एनकाउंटर पर सवाल खड़े कर रहे हैं। अब सोशल मीडिया पर एक फोटो काफी शेयर हो रही है। तस्वीर में कुछ लाशों के पास पुलिसकर्मी खड़े नजर आ रहे हैं। 

फोटो को हैरादाबाद एनकाउंटर का बताकर शेयर किया जा रहा है। कई मीडिया संस्थानों ने भी फोटो को हैदराबाद एनकाउंटर के बाद की तस्वीर बताकर प्रसारित किया है। 

क्या है सच?

भास्कर हिंदी ने अपनी पड़ताल में पाया कि इस तस्वीर का हैदराबाद एनकाउंटर से कोई लेना देना नहीं है। फोटो 2015 की है, जब आंध्रप्रदेश पुलिस ने एनकाउंटर में 20 चंदन तस्कर को मार गिराया था। पड़ताल में हमेंद हिंदूकी एक न्यूज मिली। खबर के मुताबिक लाल चंदन की तस्करी रोकने के लिए बनी टास्कफोर्स ने सेशाचलम के जंगलों में 20 लोगों को मार दिया था। लकड़हारों को पुलिस ने लाल चंदन के पेड़ गिराते हुए पकड़ लिया था। तस्करों को आत्समर्पण करने का मौका भी दिया गया, लेकिन उन्होंने पुलिस पर पत्थरबाजी कर दी। जिसके जवाबी कार्रवाई में पुलिस को गोली चलानी पड़ी। 

यह साफ है कि वायरल तस्वीर फर्जी है। 

कमेंट करें
WtrAc