comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

कोरोना महामारी की रोकथाम में रियायत नहीं देगा चीन

November 13th, 2020 20:32 IST
 कोरोना महामारी की रोकथाम में रियायत नहीं देगा चीन

हाईलाइट

  • कोरोना महामारी की रोकथाम में रियायत नहीं देगा चीन

बीजिंग, 13 नवंबर (आईएएनएस)। हाल ही में, चीन के छिंगताओ, थ्येनचिन, शांगहाई, आनहुई आदि कुछेक क्षेत्रों में कोविड-19 के गिने-चुने मामले सामने आये हैं जिनसे एक बार फिर लोगों के दिल की धड़कने बढ़ गईं और चिंताएं सताने लगीं।

हालांकि, मौजूदा स्थिति को देखें तो ये नई परिस्थितियां अभी भी महामारी की रोकथाम और नियंत्रण के सामान्यीकरण के दायरे में हैं, और अत्यधिक घबराहट की आवश्यकता नहीं है। लेकिन, यह हमें स्मरण करवाता है कि महामारी की रोकथाम और नियंत्रण की सामान्य स्थिति के तहत, हमें उत्तरोत्तर प्रगति के खिलाफ अपनी सतर्कता और सुरक्षा में ढील नहीं देनी चाहिए।

बहरहाल, इन स्थानों पर स्थानीय महामारी की स्थिति को देखते हुए, सरकार और प्रशासन द्वारा किये जा रहे तेजी से ट्रैकिंग और संक्रमण के स्रोत की पहचान, निदान और उपचार योजना, त्वरित जांच और रोकथाम और नियंत्रण की सटीक तैनाती जैसे उपायों ने लोगों की चिंताओं को काफी हद तक दूर किया है।

हाल ही में, चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने एक बैठक आयोजित की जिसमें शरद ऋतु और सर्दियों में महामारी की स्थिति की रोकथाम और नियंत्रण में ठोस कदम उठाने पर बल दिया गया। चूंकि इस समय सर्दी आ रही है, तो चीन सरकार का पूरा फोकस है कि महामारी की रोकथाम और नियंत्रण में किसी भी तरह की लापरवाही की कोई गुंजाइश नहीं रहनी चाहिए।

सर्दियों में कोरोना की दूसरी लहर आने की संभावना को देखते हुए चीनी प्रशासन जनशक्ति, सामग्री, संगठन और समन्वय के लिए पूरजोर से तैयारियां कर रहा है, और साथ ही ठीक हो चुके रोगियों के ट्रैकिंग प्रबंधन पर खासा ध्यान भी बनाये हुए है।

हालिया कुछेक मामलों को देखें, तो उनमें से कोरोना के कुछ मामले आयातित कोल्ड चेन फूड के लोडिंग (लदान), अनलोडिंग (उतरान) और परिवहन से संबंधित हैं, जो विभिन्न क्षेत्रों में महामारी की रोकथाम और नियंत्रण के लिए एक नया ध्यान भी प्रदान करता है। अपूर्ण आंकड़ों पर नजर डालें, इस साल जून से आधे से भी कम समय में, राष्ट्रव्यापी कोल्ड चेन में रखे फ्रोजन उत्पादों में 10 से अधिक कोरोना के मामलों का पता चला है।

बहरहाल, इस तरह के जोखिमों को कम करने के लिए राज्य परिषद ने 9 नवंबर को कोरोना वायरस की संयुक्त रोकथाम प्रणाली जारी की है, जिसके लिए आयातित कोल्ड चेन फूड के परिवहन उपकरणों और पैकेजों की व्यापक कीटाणुशोधन की आवश्यकता पर बल दिया गया है।

उसी दिन, आयातित कोल्ड चेन फूड के व्यापक निवारक कीटाणुशोधन के लिए कार्य योजना भी जारी की गई, जिसमें सीमा शुल्क विभागों, परिवहन विभागों और अन्य विभागों के बीच श्रम विभाजन को स्पष्ट किया गया।

अब, आयातित फ्रोजन मांस और जलीय उत्पादों की ट्रेसिंग भी की जाने लगी है। 30 अक्टूबर से थ्येनचिन कोल्ड चेन फूड ट्रेसेब्लिटी प्लेटफॉर्म का पूर्ण ऑनलाइन ऑपरेशन किया जाने लगा है। अब तक, आयातित फ्रोजन मांस और जलीय उत्पादों के कुल 6,253 बैचों को अपलोड कर दिया गया है, और इलेक्ट्रॉनिक ट्रैसेबिलिटी कोड लागू कर दिया है।

वर्तमान में, श्वसन संक्रामक रोगों का खतरा ऊंचा है, और अभी भी नए कोरोनोवायरस के संचरण का खतरा बना हुआ है। इसके अलावा, चीन से बाहर महामारी की स्थिति अपेक्षाकृत गंभीर है, और महामारी की रोकथाम और नियंत्रण प्रणाली का पालन करना और सुधार करना जारी रखना चाहिए।

बेशक, सामाजिक जीवन को बहाल करने की आवश्यकता है, लेकिन महामारी की रोकथाम और नियंत्रण में बिल्कुल भी रियायत नहीं देनी चाहिए, खासकर कुछ महत्वपूर्ण लिंक, जैसे कि अस्पतालों और कोल्ड चेन में, जिसे चीन भली-भांति समझता है।

(अखिल पाराशर, चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

कमेंट करें
fYKJG
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।