comScore

Health: पैक्ड फ्रूट जूस के ज्यादा सेवन से डिप्रेशन का खतरा

Health: पैक्ड फ्रूट जूस के ज्यादा सेवन से डिप्रेशन का खतरा

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भागदौड़ भरी जिंदगी और काम के दबाव के चलते आजकल लोग तेजी से डिप्रेशन का शिकार हो रहे हैं। डिप्रेशन को ट्रिगर करने में हमारी डाइट बहुत बड़ी भूमिका निभाती है। एंग्जाइटी या डिप्रेशन इसलिए सबसे खतरनाक होता है, क्योंकि इसके ​लक्षण शुरुआत में पता नहीं चलते हैं। व्यक्ति तब अपने अंदर बदलाव देखता है, जब डिप्रेशन का लेवल काफी बढ़ जाता है। कुछ फूड ऐसे हैं जो डिप्रेशन के लेवल को और भी ज्यादा बढ़ाते हैं। 

पैक्ड फ्रूट जूस में फलों के असली रस की जगह कई कैमिकलयुक्त पदार्थों और अन्य चीजों का उपयोग किया जाता है। शोधकर्ताओं की एक बड़ी टीम कहती है कि इससे सिर में दर्द, एंग्जाइटी और डिप्रेशन की शिकायत होती है। इसलिए पैक्ड फ्रूट जूस की जगह आपको फलों का सेवन करना चाहिए। भास्कर हिंदी आज आपको कुछ ऐसे फूड्स के बारे में बता रहा है, जो डिप्रेशन के मरीजों को नहीं लेने चाहिए।

डाइट सोडा:
क्या आप यह समझते हैं कि डाइट सोडा में चीनी नहीं होती है, इसलिए यह नुकसानदायक नहीं होता है? अगर हां तो आप गलत हैं। भले ही इसमें मीठा नहीं है, लेकिन ज्यादा डाइट सोडा के सेवन से डिप्रेशन का खतरा बढ जाता है। इससे कमजोरी भी महसूस हो सकती है। कैफीन की बहुत अधिक मात्रा के चलते एंग्जाइटी के साथ थकान भी महसूस होती है।

is drinking diet soda a health risk rs | Diet Soda: डाइट ...

अल्कोहल:
यह चर्चित है कि तनाव में अल्कोहल का सेवन करने से सब ठीक हो जाता है, लेकिन यह पूरी तरह से गलत है। शराब का सेवन न सिर्फ शरीर के महत्तवपूर्ण अंगों को नुकसान पहुंचाते हैं, बल्कि यह डिप्रेशन में हैं तो शराब का सेवन कतई न करें। यह आपके लिए घातक साबित हो सकता है। 

Does alcohol misuse cause depression and mental health problems ...

वाइट टोस्ट:
ज्यादातर लोग नाश्ते में वाइट टोस्ट का सेवन करते हैं, लेकिन आपको यह पता होना चाहिए कि वाइट टोस्ट शरीर में ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाता है जो आगे चलकर एंग्जाइटी का कारण बनता है। डॉक्टर्स कहते हैं कि वाइट टोस्ट के अधिक सेवन से डिप्रेशन का भी खतरा बढ़ता है, इसलिए अगर टोस्ट का सेवन करना ही है तो आटे की ब्रेड का सेवन करें।

Is Toast Less Nutritious Than Fresh Bread? | Nutrition Diva

कैचअप:
कैचअप में भारी मात्रा में चीनी होती है। एक चम्मच कैचअप में करीब 4 ग्राम चीनी होती है। मीठा पेट के लिए तो खराब होता ही है। यह डिप्रेशन और एंग्जाइटी का भी कारण बनती है। डॉक्टर सलाह देते हैं कि बाजार का कैचअप खाने से बे​हतर है कि घर पर कैचअप बनाएं और उसमें थोड़ी सी काली मिर्च एंड करें। 

Foods to Avoid If You Have Anxiety or Depression

कमेंट करें
Dzmld