comScore

Coronavirus: 1,110 की मौत के बीच WHO ने वायरस को दिया ये नया नाम

February 12th, 2020 10:10 IST
Coronavirus: 1,110 की मौत के बीच WHO ने वायरस को दिया ये नया नाम

हाईलाइट

  • कोरोवायरस का नया नाम 'कोविड-19'
  • वायरस से अब तक 1,110 लोगों की मौत

डिजिटल डेस्क, बीजिंग। दुनियाभर में कोरोनावायरस का प्रकोप लगातार बढ़ता ही जा रहा है। चीनी प्रशासन के मुताबिक इस घातक वायरस की चपेट में आने से मरने वालों की संख्या 1,110 तक पहुंच गई है। मंगलवार तक यह आंकड़ा 1,016 का था। वहीं वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (WHO) ने कोरोवायरस का एक नया नाम रखा है। अब दुनिया में इस घातक वायरस को कोविड-19 (Covid-19) के नाम से भी जाना जाएगा।

कैसे फैलता है वायरस?
कोरोनावायरस उसी तरह से फैलता है जैसे सर्दी जुखाम फैलता है। इससे बचने के तरीके वही हैं, जिससे आप सर्दी जुखाम से बचते हैं। यूएस सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) ने बयान जारी करते हुए यात्रियों को वुहान में जानवरों के बाजारों में जाने से बचने की सलाह दी है। इसके अलावा ये भी कहा गया है कि वह बिना पका मीट न खांए। लोगों से कहा गया है कि वह इस रोग से संक्रमित लोगों के संपर्क में आने से बचे और अपने हाथों को साबुन और पानी से बार-बार धोए।

ये भी पढ़ें : Coronavirus: कितना खतरनाक है ये वायरस, क्या आपको इससे वाकई डरने की जरुरत है?

क्या मास्क आपको संक्रमित होने से बचा सकता है?
वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने कहा है कि मास्क इतने असरदार नहीं है कि आपको कोरोनावायरस से बचा सके, इसलिए यदि आप सोचते हैं कि मास्क पहन लेने से आप सेफ हैं तो उससे ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा। WHO का कहना है कि मास्क सिर्फ उन लोगों को यूज करना चाहिए जो खुद संक्रमित है ताकि ये संक्रमण और लोगों में न फैले।

सोशल मीडिया पर ऐसे कई सारे तरीके वायरल हो रहे हैं, जिसमें कोरोना वायरस का इलाज बताया जा रहा है। लेकिन आपको बता दें कि कोरोनावायरस की अभी तक कोई वैक्सीन नहीं बन सकी है। अगर आपका इम्यून सिस्टम स्ट्रॉन्ग होगा तो ही आप कोरोनावायरस से बच सकते हैं। इसकी वैक्सीन को बनने में एक साल का समय लग सकता है। सार्स की वैक्सीन बनाने में भी 20 महीने लगे थे।

ये भी पढ़ें : इन मौतों से Coronavirus ने तोड़ा SARS का रिकॉर्ड, विदेशियों के भारत आने पर लगी रोक

खुद को कैसे सुरक्षित रखें?
यूएस सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) ने बयान जारी करते हुए यात्रियों को वुहान में जानवरों के बाजारों में जाने से बचने की सलाह दी है। इसके अलावा ये भी कहा गया है कि वह बिना पका मीट न खांए। लोगों से कहा गया है कि वह इस रोग से संक्रमित लोगों के संपर्क में आने से बचे और अपने हाथों को साबुन और पानी से बार-बार धोए।

कमेंट करें
GsRQ2