दैनिक भास्कर हिंदी: मुनक्का खाने के चमत्कारी फायदे

August 10th, 2018

टीम डिजिटल. नई दिल्‍ली. मुनक्का जिसको हम बड़ी दाख के नाम से भी जानते हैं यह ना केवल खाने में अच्छी लगती हैं बल्कि ये हमारे शरीर से कई बीमारियां को दूर करती हैं। इसकी तासीर गर्म होती है किन्तु ये कई रोगों की दवाई के रूप में इस्तेमाल किया जाता है. इसीलिए इसका औषधियों में विशेष स्थान है. इसमें पाए जाने वाले अनेक गुण हमें बिमारियों से दूर रखने और शरीर को रोगमुक्त बनाने में लाभकारी सिद्ध होते है. आइए देखें इसके फायदे


सर्दी जुकाम में : जिन व्यक्तियों को लगातार सर्दी और जुकाम बना रहता है, वे 3 से 4 मुनक्काम दू ठंडे पानी में भिगोकर रख दें और सुबह उठकर अच्छे से चबाकर खायें. रोगी का पुराना जुकार हो जाएगा और इस तरह सर्दी भी नही लगती है इस उपाय को दिन में दो से तीन बार अपनाएँ.

आँखों की रौशनी : मुनक्का खाने से आँखों की रौशनी तेज़ होती है मुनक्का को पानी में भिगोकर रख दें और सुबह उठकर अच्छे से चबायें आँखों की रौशनी को तेज़ करता है और जलन भी दूर होती है.

ब्लड प्रेशर : मुनक्का को नमक के पानी में भिगोकर रखें और फिर सुखा लें. जिनका ब्लडप्रेशर कम होता है उनको लाभ मिलेगा.

बुखार : अंजीर और मुनक्का को पानी में भिगोकर रख दें इसके बाद सुबह एक गिलास दूध में उबाल लें, एक हफ्ते तक सेवन करें. बुखार में लाभ मिलेगा.

पोषण : मुनक्का के अन्दर सातों धातुओं का पोषण होता है इसलिए मुनक्का का सेवन करना चाहिए इससे शरीर को भरपूर पोषण प्रदान होता है और शरीर रोगों से दूर रहता है.

शरीर पुष्ट बनाने के लिए : दिन में 8 से 10 मुनक्का का सेवन रोज़ करें ऐसा करने से शरीर हष्ट पुष्ट बना रहता है और शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ जाती है.

गले के लिए : 8 से 10 मुनक्का रात को पानी में भिगोकर रख दें. अगले दिन सुबह भीगे हुए मुनक्का को नाश्ते में लें. इसके अलावा सुबह और शाम 5 से 6 मुनक्का खायें. इसके लगातार प्रयोग से गले की खराश और नजले से आराम मिलता है, इस उपाय को आप हफ्ते में दो से तीन दिन अवश्य अपनाएँ.

पेट के विकार : मुनक्का को सुबह दूध में अच्छे से उबालकर दूध को पीजिये. मुनक्का में उपस्थित फाइबर पेट में उपस्थित ज़हरीले पदार्थो को शरीर से बाहर निकालने में मदद करता है, इसके अलावा मुनक्का खाने से कब्ज़ की समस्या से भी छुटकारा मिलता है. एक हफ्ते तक सेवन करके देखें जल्द ही आराम मिलेगा.