comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

अकेली होने पर लड़कियां घर पर करती है ये काम, जानकर रह जाएंगे आप भी हैरान

अकेली होने पर लड़कियां घर पर करती है ये काम, जानकर रह जाएंगे आप भी हैरान

हाईलाइट

  • घर पर अकेले में करती है लड़कियां मन मुताबिक चीजें
  • मोबाइल पर करती है घंटों बातें
  • पजामें की बजाए पहनती है शॉट्स

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। अक्सर ऐसा होता है कि आप घर पर अकेले होते हैं। घर वाले कहीं बाहर गए होते है या आप घर से दूर रह रहे होते हैं। ऐसे में आप अपने खाली समय को किस तरह इस्तेमाल करते है, ये एक अहम मुद्दा है। बात करें लड़कों की तो वो घूमने-फिरने या टीवी देखने में अपना समय बीता देते है। वहीं हर इंसान अकेले में अपने मन मुताबिक रहता है। जबकि जब हम किसी के साथ रह रहे होते है तो हम काफी सारी चीजें अपने मन के मुताबिक नहीं कर पाते हैं, खासकर लड़कियां।

'नागिन' की ये टीवी एक्ट्रेस बरपा रहीं है सोशल मीडिया पर कहर, देखें इनकी हॉट तस्वीरें

फेमस पोर्न स्टार मिया खलीफा की चौंकाने वाली डिमांड, कहा- मुझे कपड़ो के साथ...

लड़कियां अक्सर मौका ढूंढती हैं कि वो अकेले रह सकें ताकि वो अपने मन के मुताबिक हर काम कर सकें।

ऋतिक रोशन ने किया फिल्म 'वॉर' का वर्कआउट वीडियो शेयर, देखकर रह जाएंगे हैरान

लॉकडाउन: सलमान खान बीता रहे हैं इस खास शख्स के साथ अपना सारा समय, जानें कौन है वो

लड़कियां जब घर पर अकेले होती हैं, तो वो शॉट्स में रहना पसंद करती हैं। क्योंकि शॉट्स में वो खुद को कंफर्टेबल महसूस करती हैं। अमूमन लड़कियां जब अकेले होती हैं, तो वो 'मि टाइम' निकालती हैं, यानी कि खुद के लिए समय। इस समय में वो अपने लिए मिनी फैशल परेड करती हैं।

Photos: इस कंपनी की मालकिन चाहती है 7 बच्चे, इन हॉट तस्वीरों से सोशल मीडिया पर मचाया तहलका

इस बॉलीवुड एक्ट्रेस के भाई ने पत्नी के साथ शेयर की ऐसी हॉट तस्वीरें, जिन्हें देखकर आप...

इस फैशल परेड में उनका मेकअप करना, खुद की केयरिंग करना, अपने नाखूनों, बालों, स्कीन के देख भाल करना शामिल होता है।

आसिम रियाज के गाने पर शेफाली जरीवाला का कांटा लगा स्टाइल, देखें वीडियो

उर्वशी रौतेला पर एक बार फिर लगा चोरी का इल्जाम, जानें इस बार क्या चुराया

इतना ही नहीं लड़कियां जब भी अकेली होती है और उनके पास कुछ करने को नहीं होता वो अपने आउटफिट को ट्राय करती हैं। साथ ही फोटोज और वीडियोज भी बनाती हैं। 

कोरोनावायरस पर बना गाना 'नईया पार करोना', देखें वीडियो

दूरदर्शन की राह पर चला जी टीवी, सैटेलाइट चैनलों के इतिहास का ये पहला कॉमेडी शो होगा सोमवार से टेलिकास्ट

इतना ही नहीं अकेले में लड़कियां टीवी देखती है और टीवी पर भी खासकर वो शो या फिल्म जो वो सार्वजनिक तौर पर या फैमिली क साथ नहीं देख सकती। किसी झिझक के चलते या डांट के डर से। इसके अलावा एक वजह ये भी हो सकती है कि फैमिली जो शो देखती हो वो आपको बोरिंग लगता हो लेकिन आपको मजबूरी में उनके साथ वो चैनल या शो देखना पड़ता हो। साथ ही अकेले में लड़कियां अक्सर खुद ही से बातें करती हैं।

टेलीविजन: लॉकडाउन में घर से बाहर निकले सुनील ग्रोवर, पड़े पुलिस के डंडे

इन 5 आदतों से हो सकता है कोरोनावायरस, जाने कैसे बचें

इसके अलावा लड़कियों को अकेले में फुल वॉल्यूम में अपना पसंदीदा गाना सुनना पसंद होता है। इसके साथ-साथ वो डांस भी करती हैं क्योंकि वो खुद को फ्री महसूस करती हैं।

कोरोनावायरस प्रभाव: इंडिगो ने की कर्मचारियों के लिए वेतन कटौती की घोषणा

सत्ता परिवर्तन: कांग्रेस के हाथ से निकला मध्यप्रदेश, अब खिलेगा 'कमल' क्योंकि मुरझाए 'नाथ'

इतना ही नहीं सबके सामने डायटिंग का बहाना बनाने वाली लड़कियां अकेले में जमकर स्नैक्स खाती हैं।

कोरोनावायरस: बी-टाउन सितारों ने किया खुद को घर में कैद, सोशल मीडिया पर वीडियों शेयर कर दिखाया टैलेंट

कोरोनावायरस: बॉलीवुड में कई फिल्मों की रिलीज डेट टली, 800 करोड़ तक हो सकता है नुकसान

सबसे खास और आम बात जो लड़कियां अकेले हो या ना हो करती ही हैं, वो है अक्सर अपने एक्स व्वॉयफ्रेंड की प्रोफाइल को टटोलना और ये सोचना कि अब किसे डेट कर रहा होगा। क्या कर रहा है, कहां जा रहा है, किसके साथ है वगैरह वगैरह।

Rajpal Yadav Birthday: 49 साल के हुए राजपाल यादव, जल्द ही भूल- भुलैया-2 में नजर आएंगे

बॉलीवुड: कैटरीना कैफ ने जिम में आलिया भट्ट का किया बुरा हाल, देखें Video

साथ ही खुद भी सोशल मीडिया पर बॉयस के अकाउंट चैक करते हुए ये सोचती है कि अब मैं किसे डेट करूं।

Video: 'कोरोना' से बचाव का तरीका बता रही थीं TMC सांसद नुसरत जहां, इस वजह से हुईं ट्रोल

Photo: देखिए विज्ञापनों की रानी एना लेटिसिया की जबरदस्त तस्वीरें

लड़कियां मोबाइल यूस करती हैं। एयरफोन कान में लगाए हुए संगीत सुनती रहती है। अकेले में सबसे ज्यादा लड़कियां जो काम करती हैं वो है मोबाइल यूस करना

B,Day special: 'डांस इंडिया डांस' के जज का है आज 45वां जन्मदिन, देखें तस्वीरें

Coronavirus: जानिए आखिर क्यों इस मॉडल ने पहनी मास्क वाली बिकनी? देखे फोटो

कमेंट करें
sRdJa
कमेंट पढ़े
Ruksana bee April 15th, 2020 08:12 IST

Dainik Bhaskar

NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।