comScore

पश्चिम बंगाल : हाथी दांत की तस्करी करते इंजीनियर सहित 4 गिरफ्तार

June 25th, 2018 19:10 IST

हाईलाइट

  • पश्चिम बंगाल में वन्य प्राणियों की तस्करी मामले में वन विभाग को एक बड़ी सफलता मिली है।
  • जलढाका इलाके से सिविल इंजीनियर सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया गया।
  • अदालत ने इन्हें 14 रोज की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

डिजिटल डेस्क, जलपाईगुड़ी। पश्चिम बंगाल में वन्य प्राणियों की तस्करी मामले में वन विभाग को एक बड़ी सफलता मिली है। विभाग के टास्कफोर्स की टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर जलपाईगुड़ी जिले के धूपगुड़ी ब्लॉक अंतर्गत जलढाका इलाके से सिविल इंजीनियर सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया है। इन लोगों के पास से करीब चार किलो हाथी दांत के टुकड़ें बरामद किए गए है। इन लोगों ने हाथी का दांत असम से नेपाल तस्करी करने की योजना बनाई गई थी। सोमवार (25 जून) को  वन विभाग की टीम ने आरोपियों को जलपाईगुड़ी सीजेएम अदालत में पेश किया गया, जहां अदालत ने इन्हें 14 रोज की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

Image result for 4 held with elephant ivory in WB Jalpaiguri district

बैकुंठपुर वन विभाग सूत्रों से मिली जानकारी के सुनील राय (46) सिविल इंजीनियर है, सुनील राय ने 1994 में सिविल इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की। जो हल्दिया में काम करते हैं। वह इंजीनियर के साथ तस्करी का काम भी करता है। तस्करों के गिरोह से जुड़ा हुआ है। जबकि अन्य आरोपियों में असम के धुबरी का निवासी विष्णु राय (35), धुपगुड़ी के मल्लिपाड़ा का निवासी सीतानाथ राय (42) और मयनागुड़ी के पश्चिम बड़गिला का निवासी मंगला राय (46) शामिल है। सभी आरोपी जलढाका इलाके के एनएच-31 से पकड़े गये हैं। 

Related image

अधिकारियों के मुताबिक, उन्हें गुप्त जानकारी मिली जिसके आधार पर उन्होंने आरोपियों को पकड़ा। बताया जा रहा है कि विष्णु राय ने असम में वन्य प्राणियों के देहांश की तस्करी के लिए गिरोह बनाया था। जबकि सीतानाथ राय पहले भी जाली नोट के कारोबार के सिलसिले में पकड़ा जा चुका है. मंगल राय का उपयोग गिरोह के सदस्य करियर के रूप में करते थे। वन विभाग गिरोह के अन्य सदस्यों की तलाश कर रही है।

कमेंट करें
4vuI7