दैनिक भास्कर हिंदी: कांग्रेस के दो कद्दावर नेताओं का निधन, राहुल गांधी ने जताया शोक

June 9th, 2018

हाईलाइट

  • कांग्रेस के पूर्व सांसद और गोवा कांग्रेस के पूर्व प्रमुख शांताराम नाइक का शनिवार सुबह दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया।
  • पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वयोवृद्ध नेता ललितेश्वर प्रसाद शाही का भी शनिवार सुबह दिल्ली के एम्स में निधन हो गया।
  • दोनों दिग्गज नेताओं के निधन पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी दुख जताया। राहुल ने ट्वीट कर उनके परिजनों को ढांढस बंधाया।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। 9 जून की सुबह कांग्रेस के दो कद्दावर नेताओं के निधन की खबर लेकर आई। कांग्रेस के पूर्व सांसद और गोवा कांग्रेस के पूर्व प्रमुख शांताराम नाइक का शनिवार सुबह दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। 72 वर्षीय शांताराम नाइक गोवा की राजनीति में सक्रिय थे। वहीं पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वयोवृद्ध नेता ललितेश्वर प्रसाद शाही का भी शनिवार सुबह दिल्ली के एम्स में निधन हो गया। 98 वर्षीय ललितेश्वर प्रसाद की 7 जून को अचानक तबीयत बिगड़ गई, जिसके चलते उन्हें एम्स में भर्ती किया गया था। जहां शनिवार सुबह डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

 



राहुल गांधी ने जताया दुख 

दोनों दिग्गज नेताओं के निधन पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी दुख जताया। राहुल ने ट्वीट कर उनके परिजनों को ढांढस बंधाया। राहुल ने कहा कि नाइक ने गोवा राज्य की लड़ाई में अहम भूमिका निभाई। 

 

 


 

बिहार में शोक की लहर 

वहीं एलपी शाही की मौत को लेकर राज्यसभा सांसद अखिलेश सिंह ने शोक जताया। उन्होंने कहा कि एलपी शाही का निधन निजी सदमा है। बिहार विधानसभा के अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी ने एलपी शाही के निधन को एक युग का अंत बताया है। एल पी शाही के निधन पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कौकब कादरी ने भी शोक जताया और इसे बिहार की राजनीति के लिए बड़ी क्षति बताया है।

 

                                                                                               (फोटो : शांताराम नाइक)
 

कौन थे शांताराम नाइक 

शांताराम नाइक पूर्व राज्यसभा सांसद और गोवा कांग्रेस के पूर्व प्रमुख थे। वे 1984 आम चुनाव में पहली बार लोकसभा सदस्य के रूप में चुने गए थे। उन्होंने गोवा को राज्य का दर्जा दिलाने की मांग की थी। जो 1987 में पूरी हुई थी। वे 2005-2011 और 2011-2017 के बीच दो बार गोवा से राज्यसभा सांसद भी रह चुके थे। जुलाई 2017 में राज्यसभा सीट के लिए हुए चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) उम्मीदवार विनय तेंदुलकर ने उन्हें हराया था। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जब युवाओं के लिए पार्टी में पदों पर जगह देने की अपील की थी तो नाइक ने गोवा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पद से हाल ही में इस्तीफा दे दिया था।

 

                                                                                               (फोटो : एलपी शाही)


कौन थे एलपी शाही 

कांग्रेस नेता एलपी शाही कांग्रेस के कद्दावर नेता थे। उनका निधन 98 साल की उम्र में हुआ है। एलपी शाही एक प्रख्यात राजनेता के साथ ही एक प्रसिद्ध समाजसेवी भी थे। वे बिहार की राजनीति में सक्रिय थे। उनके निधन से बिहार की राजनीति में शोक की लहर दौड़ गई है।