comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

Coronavirus in India: देश में अब तक 2.76 लाख संक्रमि​त, उद्धव ने महाराष्ट्र में फिर संपूर्ण लॉकडाउन के संकेत दिए, जानें राज्यों का हाल

June 10th, 2020 23:40 IST
Coronavirus in India: देश में अब तक 2.76 लाख संक्रमि​त, उद्धव ने महाराष्ट्र में फिर संपूर्ण लॉकडाउन के संकेत दिए, जानें राज्यों का हाल

हाईलाइट

  • देश में कोरोना से अब तक 7,745 मौतें, महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 3,438 की जान गई
  • देश में अब तक 1,35,206 स्वस्थ हुए, जबकि एक्टिव मरीजों की संख्या 1,33,632 है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देश हर दिन 9 हजार से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। ऐसे में विशेषज्ञों आशंका जता रहे हैं कि जुलाई अंत तक भारत में कोरोना मरीजों की संख्या 5 लाख के पार जा सकती हैं। महाराष्ट्र कोरोना का हब बना हुआ है। यहां अब कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या एक लाख के पास पहुंच गई है। ऐसे में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा है कि अगर लॉकडाउन में छूट देना खतरनाक होने लगा तो दोबारा लॉकडाउन लगाने को मजबूर होना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि जिस तरह से चरणबद्ध तरीके से लॉकडाउन किया गया वैसे ही अनलॉक भी किया जाएगा।

वहीं बुधवार सुबह स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार बीते 24 घंटों के दौरान 9985 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं और 279 लोगों की मौत हुई है। इसके साथ ही देश में कोरोना के कुल मामले बढ़कर 2 लाख 76 हजार 583 हो गए हैं। अब तक 7745 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 1 लाख 35 हजार 206 मरीज इलाज के बाद स्वस्थ हुए हैं। 1 लाख 33 हजार 632 मामले सक्रिय हैं। वहीं बीते 24 घंटों में कोरोना से संक्रमित 5,991 रोगी स्वस्थ हुए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि पहली बार कुल पॉजिटिव केसों में से ठीक हो चुके लोगों की संख्या ज्यादा है। अब रिकवरी दर 48.88% है।

देखिए कब कितने मामले सामने आए और कितने लोगों ने दम तोड़ा-     

          तारीख                    मामले                    मौत          
10 जून9985279
9 जून9987331
8 जून9983206
7 जून9971287
6 जून9987294
5 जून9851273
4 जून9304260
3 जून8909217
2 जून8171204
1 जून8394230

राज्यों में कोरोना संक्रमण का हाल

  • महाराष्ट्र: 3254 नए COVID19 पॉजिटिव मामले और 149 मौतें रिपोर्ट हुईं। 1879 लोगों को ठीक होने के बाद आज छुट्टी दे दी गई। राज्य में कुल पॉजिटिव मामले बढ़कर 94,041 हो गए। इनमें 44,517 डिस्चार्ज और 3438 मृतक लोग शामिल हैं। वहीं मुंबई में 1567 अधिक COVID19 मामले और 97 मौतें रिपोर्ट हुईं। शहर में कुल मामलों की संख्या अब 52445 है, जिसमें 23693 ठीक/डिस्चार्ज, 26897 सक्रिय मामले और 1855 मौतें शामिल हैं।
  • तेलंगाना: 191 अधिक COVID-19 मामले और 8 मौतें रिपोर्ट हुईं। राज्य में कुल मामलों की संख्या अब 4111 हो गई है, जिसमें 1817 डिस्चार्ज, 2138 सक्रिय मामले और 156 मौतें शामिल हैं। हैदराबाद के गांधी अस्पताल में कोरोना मरीज की मौत पर रिश्तेदारों द्वारा ड्यूटी पर तैनात स्वास्थ्य कर्मचारियों को पीटने पर डॉक्टरों ने विरोध प्रदर्शन किया। ड्यूटी पर तैनात स्वास्थ्य कर्मचारी ने बताया कि कोरोना मरीज की मौत डिक्लेयर करने के बाद न जाने कहां से 2 लोग पॉजिटिव वार्ड में घुस गए। वहां न तो कोई सिक्योरिटी थी न ही कोई पुलिस अधिकारी। उन्होंने मेरे ऊपर प्लास्टिक की कुर्सी और लोहे का स्टूल फेंक कर मारा, जिससे मेरी बाजु और पीठ पर चोट आई है। डॉक्टर और नर्सों ने घबराकर खुद को एक कमरे में बंद कर लिया था।
  • उत्तर प्रदेश: बुधवार को कुल 277 कोरोना के मामले सामने आए। राज्य में 4318 एक्टिव केस हैं और 6971 लोग पूरी तरह से ठीक होकर डिस्चार्ज किए जा चुके हैं। अब तक 321 मौतें रिपोर्ट की गई हैं। अब तक प्रदेश में 4 लाख 4 हजार 637 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं। हमारे प्रदेश में पॉजिटिविटी रेट 2.87 प्रतिशत है। हॉटस्पॉट की संख्या अब 2060 हो गई है। इनमें से 768 थाने हैं, 9 लाख 91 हजार मकान हैं और 56 लाख 64 हजार लोग लॉकडाउन के अंतर्गत इन कंटेनमेंट जोन्स में हैं। यह जानकारी उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने दी।
  • जम्मू-कश्मीर: जम्मू एवं कश्मीर में बुधवार को 161 से अधिक COVID19 मामले दर्ज किए गए। इनमें से जम्मू संभाग से 46 और कश्मीर संभाग से 115 हैं। केंद्र शासित प्रदेश में कुल मामलों की संख्या अब 4507 है। इनमें 2785 सक्रिय मामले, 1671 ठीक और 51 मौतें शामिल हैं। वहीं दक्षिण कश्मीर में CRPF की 90वीं बटालियन में तैनात एक CRPF आदमी की कोरोना से मौत के बाद उसके संपर्क में आए सभी 28 CRPF लोग जो आज पॉजिटिव पाए गए। उन्हें को MHA के आवश्यक दिशानिर्देशों का पालन करते हुए क्वारंटीन कर दिया गया।
  • मध्यप्रदेश: 200 से अधिक COVID19 मामले और 7 मौतें रिपोर्ट हुईं। राज्य में कुल मामलों की संख्या अब 10049 है, जिसमें 6892 बरामद, 2730 सक्रिय मामले और 427 मौतें शामिल हैं।
  • राजस्थान: बुधवार रात 8:30 बजे तक 355 COVID 19 मामले और 4 मौतें दर्ज हुईं। राज्य में कुल मामलों की संख्या अब 11,600 है, जिनमें 2772 सक्रिय मामले और 259 मौतें शामिल हैं।
  • बिहार: 115 अधिक COVID19 मामले दर्ज किए गए। इसे मिलाकर राज्य में कुल मामलों की संख्या 5698 हो गई।
  • पश्चिम बंगाल: पिछले 24 घंटों में 343 और COVID19 मामले और 17 मौतें रिपोर्ट हुईं। राज्य में कुल मामलों की संख्या अब 9328 है जिसमें 5117 सक्रिय मामले, 3,779 डिस्चार्ज और 432 मौतें शामिल हैं।
  • दिल्ली: 1501 COVID19 पॉजिटिव केस, 384 ठीक/डिस्चार्ज/माइग्रेटेड और 48 मौतें रिपोर्ट हुईं। राष्ट्रीय राजधानी में पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या बढ़कर 32810 हो गई, जिनमें 12,245 ठीक/डिस्चार्ज/माइग्रेटेड और 984 मौतें शामिल हैं।
  • गुजरात: पिछले 24 घंटों में 510 और COVID19 मामले और 34 मौतें रिपोर्ट हुईं। राज्य में कुल मामले अब 21554 हैं। इनमें 14,743 ठीक/डिस्चार्ज और 1,347 मौतें शामिल हैं।
  • गोवा: आज 28 और COVID19 मामले दर्ज़ किए गए। राज्य में कुल मामलों की संख्या अब 387 है जिसमें 320 सक्रिय मामले और 67 ठीक लोग शामिल हैं।
  • मणिपुर: बुधवार को 2 और COVID19 मामले दर्ज किए गए। राज्य में कुल मामलों की संख्या अब 311 है जिसमें 248 सक्रिय मामले शामिल हैं।
  • हरियाणा: 370 और COVID19 मामले और 7 मौतें दर्ज़ हुईं। राज्य में कुल मामलों की संख्या अब 5579 है जिसमें 2188 डिस्चार्ज/ ठीक, 3339 सक्रिय मामले और 52 मौतें शामिल हैं।
  • हिमाचल प्रदेश: बुधवार को कोई नया COVID19 मामला दर्ज नहीं हुआ। राज्य में अब तक COVID19 के लिए 450 लोगों ने पॉजिटिव परीक्षण किया है। इनमें 186 सक्रिय मामले, 247 ठीक और 6 मौतें शामिल हैं।
  • तमिलनाडु: बुधवार को 1,927 COVID19 मामले और 19 मौतें दर्ज हुईं। राज्य में कुल मामलों की संख्या अब 36,841 है। इनमें 17,179 सक्रिय मामले, 19,333 डिस्चार्ज और 326 मौतें शामिल हैं।
  • केरल: यहां बुधवार को 65 और COVID19 मामले सामने आए। राज्य में कुल सक्रिय मामलों की संख्या अब 1238 है, 905 लोग ठीक।
  • कर्नाटक: यहां पिछले 24 घंटों में 120 से अधिक COVID19 मामले और 3 मौतें रिपोर्ट हुईं। राज्य में कुल मामलों की संख्या अब 6041 है जिनमें 3108 सक्रिय मामले, 2862 डिस्चार्ज और 71 लोगों की मौत (2 गैर-कोरोना कारणों से) हो चुकी है।
  • उत्तराखंड: राज्य में आज 23 नए COVID19 पॉजिटिव मामले सामने आए, कुल मामलों की संख्या 1560 हो गई।  
कमेंट करें
H5eiK
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।