दैनिक भास्कर हिंदी: गोरखपुर हादसा : फरिश्ता बने डॉ. कफील को STF ने किया गिरफ्तार

September 2nd, 2017

डिजिटल डेस्क,लखनऊ। यूपी एसटीएफ ने शनिवार सुबह गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत के मामले में डॉ. कफील को लखनऊ से गिरफ्तार कर लिया है। एसटीएफ डॉ. कफील को अब गोरखपुर पुलिस को सौंप देगी। इस मामले में अब तक कुल 9 लोग को गिरफ्तार किया गया है। 

गोरखपुर घटना के बाद मेडिकल कॉलेज के डॉ. कफील खान का नाम सामने आया था, जिसमें कहा गया कि उन्होंने मुश्किल समय में ऑक्सीजन सिलेंडर मंगवाए और मदद की। लेकिन बाद में कफील से जुड़ी कई नई बातें सामने आईं, जो कि बिल्कुल अलग कहानी पेश करती है। दरअसल कफील बीआरडी मेडिकल कॉलेज के इन्सेफेलाइटिस डिपार्टमेंट के चीफ नोडल ऑफिसर हैं लेकिन वो मेडिकल कॉलेज से ज्यादा अपनी प्राइवेट प्रैक्टिस को समय देते हैं।

अस्पताल से ऑक्सीजन सिलेंडर चुराते थे डॉ. कफील

उन पर आरोप है कि वो अस्पताल से ऑक्सीजन सिलेंडर चुराकर अपने निजी क्लीनिक पर इस्तेमाल किया करता थे, जानकारी के मुताबिक कफील और प्रिंसिपल राजीव मिश्रा के बीच गहरी साठगांठ थी और दोनों इस हादसे के लिए सबसे ज्यादा जिम्मेदार हैं।

ऑक्सीजन की बकाया रकम के बारे में योगी को कुछ नहीं बताया
डॉ. कफील मेडिकल कॉलेज की खरीद कमेटी का मेंबर हैं, उन्हें भी ऑक्सीजन सप्लाई की स्थिति के बारे में पूरी जानकारी थी। 2 दिन पहले जब सीएम योगी आदित्यनाथ मेडिकल कॉलेज के दौरे पर आए थे वो भी उनके इर्द-गिर्द घूम रहे थे। लेकिन उसने भी उन्हें ऑक्सीजन की बकाया रकम के बारे में कुछ नहीं बताया।

बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत का तांडव अब भी जारी है। 29 अगस्त की रात 12 बजे से 30 अगस्त की रात 12 बजे तक 24 घंटे में 13 बच्चों की मौत हुई है। इनमें एनआईसीयू में 8 और पीआईसीयू में अलग-अलग बीमारियों से 5 बच्चों की मौत हुई है। बता दें कि एनआईसीयू में कुल 114 और पीआईसीयू में 240 मरीज भर्ती हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि अगस्त के महीने में अब तक 399 बच्चों की मौत हो चुकी है।

खबरें और भी हैं...