comScore

Independence Day 2020: भारत ही नहीं ये चार देश भी 15 अगस्त को मना रहे हैं आजादी का जश्न

Independence Day 2020: भारत ही नहीं ये चार देश भी 15 अगस्त को मना रहे हैं आजादी का जश्न

हाईलाइट

  • भारत आज अपना 74वां स्वतंत्र दिवस मना रहा है
  • 15 अगस्त 1947 को भारत को लंबे संघर्ष के बाद आजादी प्राप्त हुई थी

डिजिटल डेस्क। भारत आज अपना 74वां स्वतंत्र दिवस मना रहा है। हर साल इस दिन को देश में बड़े ही धूम-धाम से मनाया जाता है। भारत की आजादी में कई वीरों का अहम योगदान रहा है। 15 अगस्त का दिन भारत के लिए काफी महत्वपूर्ण है। करीब 200 साल भारत अंग्रेजों के गुलाम रहा था। इसके बाद 15 अगस्त 1947 को भारत को लंबे संघर्ष के बाद आजादी प्राप्त हुई थी। वहीं भारत के अलावा चार देश भी आज 15 अगस्त को ही अपनी आजादी का जश्न मना रहे हैं। भारत के अलावा दक्षिण कोरिया, बहरीन, कांगो और लिकटेंस्टीन भी 15 अगस्त को ही आजाद हुए थे। 

दक्षिण कोरिया :
दक्षिण कोरिया 15 अगस्त 1945 को जापान से स्वतंत्र हुआ था।

बहरीन :
बहरीन 15 अगस्त 1971 को ब्रिटेन से आजाद हुआ था।

कांगो :
कांगो 15 अगस्त 1960 में फ्रांस से स्वतंत्र हुआ था।

लिकटेंस्टीन :
लिकटेंस्टीन 15 अगस्त 1866 को जर्मनी से आजाद हुआ था।

महात्मा गांधी नहीं हुए थे आजादी के जश्न में शामिल
बता दें कि भारत को आजादी दिलाने में महात्मा गांधी का अहम योगदान रहा था। लेकिन 15 अगस्त 1947 को आजादी के जश्न के मौके पर महात्मा गांधी शामिल नहीं हुए थे। महात्मा गांधी उस दिन पश्चिम बंगाल के नोआखली में अनशन पर बैठे थे। महात्मा गांधी हिंदूओं और मुस्लिमों के बीच में हो रही सांप्रदायिक हिंसा को रोकने के लिए अनशन कर रहे थे।

15 अगस्त 1947 को लाल किले पर नहीं फहराया गया था तिरंगा
स्वतंत्रता दिवस यानी 15 अगस्त के दिन भारत के प्रधानमंत्री लाल किले पर तिरंगा फहराते हैं, लेकिन 15 अगस्त 1947 को लाल किले पर तिरंगा नहीं फहराया गया था। लोकसभा सचिवालय के एक शोध के अनुसार नेहरू ने 16 अगस्त 1947 को लाल किले पर तिरंगा फहराया था।

15 अगस्त 1947 में भारत का नहीं था कोई राष्ट्रगान 
भारत 15 अगस्त 1947 में आजाद हुआ था, इस दिन तक भारत का अपना कोई राष्ट्रगान नहीं था। रवीन्द्रनाथ टैगोर 'जन-गण-मन' 1911 में ही लिख चुके थे, लेकिन इसको भारत का राष्ट्रगान 1950 में घोषित किया गया था।

कमेंट करें
7XFpn