दैनिक भास्कर हिंदी: पाकिस्तान पर बिफरीं सुषमा, सदन में मिला विपक्ष का साथ

December 28th, 2017

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पाकिस्तान की जेल में बंद कुलभूषण जाधव के परिवार के साथ पाक में की गई 'बदसलूकी' पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आज संसद के दोनों सदनों में अपना जवाब दिया। सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान को जवाब देते हुए कहा है कि पाकिस्तान में जाधव के परिवार के साथ जिस तरह की हरकत की गई, हम उसकी पुरजोर निंदा करते हैं। उन्होंने ये भी कहा कि पाकिस्तान इससे ज्यादा शर्मनाक नहीं कर सकता। सुषमा स्वराज ने अपने बयान में ये भी कहा कि पाकिस्तान ने सुहागिनों को विधवाओं के रुप में कुलभूषण जाधव के सामने पेश किया। 

पाक ने जो किया, वो शर्मनाक

राज्यसभा में कुलभूषण जाधव के मुद्दे पर सुषमा स्वराज ने अपनी बात रखी। सुषमा ने कहा कि जाधव की मां और पत्नी को मराठी में बात करने से रोका गया। सुषमा ने कहा कि 'जाधव के परिवार के साथ भारत की तरफ से डिप्टी कमिश्नर गए हुए थे, लेकिन पाकिस्तान ने उन्हें बिना बताए ही जाधव की मां और पत्नी को पीछे के दरवाजे से ले गए। डिप्टी कमिश्नर को नहीं पता था कि उनकी मां और पत्नी के कपड़े, बिंदी और मंगलसूत्र उतरवाए गए। नहीं तो वो वहीं पर पाक का विरोध करते।' सुषमा ने आगे कहा कि 'पाकिस्तान ने जाधव की मां और पत्नी से उनके जूते उतरवा लिए और चप्पल देकर भेजा। पाक का कहना था कि उनके जूतों में रिकॉर्डर, कैमरा या चिप लगी हो सकती है। इन्हीं जूतों को पहनकर वो दोनों दो-दो फ्लाइट पकड़कर इस्लामाबाद पहुंची। फ्लाइट में तो किसी को कुछ नजर नहीं आया, लेकिन पाकिस्तान को नजर आ गया। उन्होंने कहा कि अगर पाक मीडिया को उनके जूतों में कुछ दिख रहा था, तो उन्होंने सबके सामने ही इस बात को क्यों नहीं उठाया?'

जाधव परिवार के मानवाधिकार का किया उल्लंघन

इसके आगे सुषमा स्वराज ने कहा कि 'पाकिस्तान से लौटने के बाद जाधव की मां और पत्नी ने मुझसे मुलाकात की। उन्होंने मुझे बताया कि जाधव काफी तनाव में दिख रहे थे और ऐसा लगा रहा था कि वो वही बोल रहे हैं, जो पाकिस्तान ने उनसे कहने को कहा है।' सुषमा स्वराज ने बताया कि उन्होंने कुलभूषण जाधव के परिवार के साथ की गई बदसलूकी को लेकर पाकिस्तान को नोटिस भी भेजा है। विदेश मंत्री ने आगे कहा कि 'पाकिस्तान ने जाधव परिवार के मानव अधिकारों का उल्लंघन किया है, इसलिए इसकी जितनी निंदा की जाए, उतनी कम है। हम सब पाकिस्तान के इस अशिष्ट व्यवहार की पुरजोर निंदा करते हैं।'

सब जानते हैं कि पाकिस्तान कैसा है: कांग्रेस

वहीं सुषमा स्वराज के इस बयान का कांग्रेस समेत सभी विपक्षी दलों ने समर्थन किया है। राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि 'पाकिस्तान को भारत अच्छी तरह से जानता है। हम जानते हैं कि पाक को लोकतंत्र और मर्यादा पर विश्वास नहीं है। उन्हें न ही राजनैतिक भाषा की समझ है।' उन्होंने आगे कहा कि 'पाकिस्तान को ये भी नहीं पता कि अगर कोई फर्जी केस में जेल में बंद है, तो उसके साथ कैसा व्यवहार किया जाए।' गुलाम नबी आजाद ने ये भी कहा कि 'जो बर्ताव पाकिस्तान ने जाधव की मां और पत्नी के सथ किया है, वो सिर्फ उनका अपमान नहीं है, बल्कि भारत के 120 करोड़ लोगों का अपमान है।' आजाद ने कहा कि 'राजनीति में हमारे बीच में भले ही कितने मतभेद हो, लेकिन जब बात मां और बहनों के सम्मान की हो, तो किसी भी तरह का कोई अपमान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। पाकिस्तान को ये भरोसा दिलाना होगा कि जब तक जाधव जब तक उनकी हिरासत में है, तब तक वो सुरक्षित हैं।' साथ ही पूरे विपक्ष ने सुषमा के बयान का समर्थन किया है। 

लोकसभा में बुधवार को उठा था मुद्दा

बुधवार को लोकसभा में कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी के साथ पाकिस्तान में की गई बदसलूकी का मुद्दा उठा था। कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा था 'पाकिस्तान में कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी के साथ जिस तहर का व्यवहार किया गया, हम उसकी निंदा करते हैं। जाधव को हमें किसी भी हालत में भारत लाना चाहिए।' इसके बाद लोकसभा में जाधव के मुद्दे पर हंगामा शुरू हो गया और विपक्ष सरकार से जवाब देने की मांग पर अड़ गया। इसके बाद विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा था कि वो कल इस मुद्दे पर अपना बयान देंगी।

नरेश अग्रवाल ने दिया विवादित बयान

वहीं समाजवादी पार्टी के सांसद नरेश अग्रवाल ने कुलभूषण जाधव को लेकर एक विवादित बयान दिया। नरेश अग्रवाल ने कहा कि 'पाकिस्तान वाले कुलभूषण जाधव को आतंकी मान रहे हैं और उनके साथ आतंकी जैसा व्यवहार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान ने अपने देश में आतंकवादी माना है तो वो उस हिसाब से व्यवहार करेगा। हमारे देश में भी आतंकियों के साथ ऐसा ही व्यवहार होना चाहिए। एसपी सांसद ने ये भी कहा कि पाकिस्तान की जेल में अभी भी जेल में सैकड़ों भारतीय बंद है, उनके बारे में बात क्यों नहीं होती? सिर्फ जाधव पर ही बात क्यों होती है?'

कुलभूषण जाधव से मिली है मां और पत्नी

बता दें कि सोमवार को ही पाकिस्तान में बंद कुलभूषण जाधव से उनकी मां और पत्नी ने मुलाकात की। इस मुलाकात में पाकिस्तान का असली चेहरा सामने आ गया। दरअसल, सोमवार को जब कुलभूषण की मां और पत्नी उनसे मिलने पाकिस्तानी उच्चायुक्त पहुंची, तो पहले तो उनसे उनके कपड़े बदलवाकर सलवार-सूट पहनाया गया। यहां तक कि उनकी बिंदी, चूड़ियां, मंगलसूत्र और सैंडिल भी पाकिस्तान ने उतरवा लिए थे। इसके अलावा मुलाकात के नाम पर बीच में शीशे की दीवार बना दी गई। साथ ही कुलभूषण की मां और पत्नी को काफी देर तक मीडिया वालों के सामने खड़ा रखा गया और उनसे बेहूदे सवाल किए गए। गौरतलब है कि कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान ने पिछली साल गिरफ्तार कर लिया था। पाकिस्तान उन्हें भारत की इंटिलिजेंस एजेंसी 'रॉ' का एजेंट बताती है, जबकि भारत का कहना है कि वो नेवी के रिटायर्ड अफसर हैं।