मौसम: इन राज्यों में होगी भारी बारिश, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट, मध्यप्रदेश के भोपाल और सतना में हुई झमाझम बारिश

June 22nd, 2022

हाईलाइट

  • मौसम विभाग ने मध्यप्रदेश में जून के अंत से लगातार बारिश होने की संभावना जताई है

डिजिटल डेस्क, भोपाल। देश के कई राज्यों में मानसून की एंट्री हो चुकी है। मई महीने के आखिर में केरल से शुरु हुआ मानसून अब उत्तर भारतीय राज्यों तक पहुंच गया है। बारिश होने की वजह से जहां लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिली है। वहीं कुछ जगह पर ज्यादा बारिश लोगों के लिए आपदा बनकर आई है। उत्तर पूर्व भारत के कुछ राज्य इस समय बाढ़ जैसी समस्या से जूझ रहे हैं।

इसी बीच मौसम विभाग ने कर्नाटक, केरल और गोवा में आने वाले पांच दिनों तक भारी बारिश होने की संभावना जताई है। इसके अतिरिक्त मौसम विभाग ने बिहार और झारखंड के लिए भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने ट्वीट कर मौसम की जानकारी दी। 

मध्यप्रदेश में मानसून ने पकड़ी रफ्तार 

आज शाम को प्रदेश की राजधानी भोपाल में जमकर बारिश हुई, जिससे दिनभर गर्मी और उमस से लोगों को राहत मिली। बारिश की वजह से राजधानी के कई इलाकों से बिजली गुल होने और रास्ते में पेड़ गिरने की खबरें आईं। इसके अलावा सतना में भी मेघ जमकर बरसे। यहां 1 इंच बारिश दर्ज की गई। इस दौरान धार, खंडवा, इंदौर व ग्वालियर में हल्की बूंदा-बांदी हुई। 
मौसम विभाग ने प्रदेश के कई इलाकों में 23 जून की सुबह तक तेज बारिश होने का अलर्ट जारी किया है। विभाग के अनुसार, शहडोल, दमोह, सागर, उज्जैन, नर्मदापुरम् व इंदौर में गरज-चमक के साथ बारिश हो सकती है।

प्रदेश के इन इलाकों को है मानसून का इंतजार

प्रदेश में वैसे तो मानसून अपनी रफ्तार पकड़ता जा रहा है लेकिन कुछ इलाके हैं जिन्हें अभी भी मानसून का इंतजार है। इन इलाकों में ग्वालियर और चंबल संभाग समेत कुछ जिले शामिल हैं। यहां अभी मानसून वैसा मेहरबान नही हो पाया जैसा प्रदेश के अन्य इलाकों पर हुआ है। 

मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार, अरब सागर और बंगाल की खड़ी में लो-प्रेशर न बनने की वजह से फिलहाल लोकल सिस्टम बनने और नमी मिलने के कारण यह बारिश हो रही है। अभी कोई सिस्टम नहीं बन रहा है। ऐसी कंडीशन में लगातार बारिश के लिए कम से कम 1 हफ्ते का इंतजार करना पड़ सकता है। जून के आखिर से ही लगातार बारिश की उम्मीद है।