दैनिक भास्कर हिंदी: भारत में जीका वायरस की दस्तक, WHO ने बनाई टास्‍क फॉर्स

July 27th, 2017

टीम डिजिटल.  भारत में जीका वायरस के तीन मामले सामने आए हैं. विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (डब्‍ल्‍यूएचओ) ने इसकी पुष्टि की है. यह मामले गुजरात के अहमदाबाद में मिले हैं. जिसके बाद स्वस्थ्य विभाग की की मुश्किल बढ़ गई है.

डब्‍ल्‍यूएचओ ने बताया है कि वायरस को आगे बढ़ने से रोकने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं. इसके लिए स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्रालय के सचिव की अध्‍यक्षता में एक अंतर मंत्रालयी टास्‍क फॉर्स बनाई गई है. इंडियन मेडिकल रिसर्च काउंसिल ने जीका वायरस का पता लगाने के लिए 34233 लोगों और 12647 मच्‍छरों के सैंपल्‍स की जांच की है.

डब्‍ल्‍यूएचओ की रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत के स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्रालय ने गुजरात के अहमदाबाद जिले के बापूनगर इलाके में जीका वायरस बीमारी के लेबोरेट्री से प्रमाणित मामलों की रिपोर्ट दी है.आपको बता दें कि जीका वायरस बीमारी, ऐडीज मच्‍छर से फैलती है. इसके लक्षणों में हल्‍का बुखार, मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द, सिरदर्द, कन्जंगक्टवाइटिस और चकत्‍ते होना शामिल है.

इसमें आगे कहा है कि गुजरात के अहमदाबाद में बीजे मेडिकल कॉलेज में RT-PCR टेस्‍ट के जरिए जीका वायरस के मामले की पुष्टि लेबोरेट्री जांच में हुई. इसके बाद पुणे में भी चार जनवरी 2017 को जांच के दौरान RT-PCR टेस्‍ट और सीक्‍वेंसिंग से मामले की पुष्टि हुई. इसके बाद एक्‍यूट फेब्राइल इलनेस और एंटीनेटाल क्लिनिक जांच में दो अन्‍य इसी तरह के मामले सामने आए.