comScore

केरल में मनरेगा के कार्यों का दायरा और काम के दिनों को बढ़ाया जाए: राहुल


हाईलाइट

  • राहुल गांधी ने ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को पत्र लिखकर केरल में मनरेगा के कार्यों का दायरा बढ़ाने की मांग की
  • राहुल ने कहा, एक परिवार के लिए निर्धारित काम के न्यूनतम दिन को बढ़ाकर 200 दिन किया जाए

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने केरल बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को एक पत्र लिखकर केरल में मनरेगा के कार्यों का दायरा बढ़ाने की मांग की है। राहुल ने कहा है कि, मनरेगा के तहत आने वाले कार्यों का दायरा बढ़ाया जाए और एक परिवार के लिए निर्धारित काम के न्यूनतम दिवस को बढ़ाकर 200 दिन किया जाए।

राहुल गांधी ने अपने पत्र में कहा है, केरल में पिछले कुछ दशकों के दौरान की सबसे भयानक बाढ़ आई है। भारी बारिश, बाढ़ और भूस्खलन के कारण लोग बेघर हो गए हैं और कीचड़ भर जाने के कारण हजारों घर रहने लायक नहीं रह गए हैं।

उन्होंने कहा, अतीत में ग्रामीण विकास मंत्रालय ने महात्मा गांधी ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (मनरेगा) के तहत, राज्य सरकार द्वारा अधिसूचित आपदा प्रभावित गांवों, विकासखंडों या जिलों के लिए विशेष बंदोबस्त किए थे। इसके अलावा मनरेगा अधिनियम, 2005 की धारा 3(4) केंद्र सरकार को इस बात का अधिकार देती है कि वह रोजगार के निर्धारित दिनों को बढ़ा सकती है।

बता दें कि, केरल में भीषण बाढ़ के कारण 100 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है और हजारों की संख्या में लोग विस्थापित हो चुके हैं। राहुल गांधी ने 11 अगस्त से 14 अगस्त के बीच अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड का दौरा किया था और राज्य में बाढ़ राहत एवं बचाव कार्य का जायजा लिया था। उन्होंने बाढ़ पीड़ितों को दान करने की लोगों से अपील भी की थी। 

कमेंट करें
ugiQa