चैंपियनशिप: 26 मार्च को पहले डब्ल्यूबीसी इंडिया फेदरवेट खिताब के लिए भिड़ेंगे मुक्केबाज सतनाम और अमेय

March 25th, 2022

हाईलाइट

  • 26 वर्षीय अमेय अपने मजबूत फॉर्म को बनाए रखने की कोशिश करेंगे

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दो सर्वश्रेष्ठ मुक्केबाज सतनाम सिंह और अमेय नितिन 26 मार्च को यूनाइटेड प्रोफेशनल बॉक्सिंग के सहयोग से पहली वर्ल्ड बॉक्सिंग काउंसिल इंडिया फेदरवेट चैंपियनशिप बेल्ट के लिए भिड़ेंगे। गुरुवार को यहां मीडिया को संबोधित करते हुए भारतीय मुक्केबाजी परिषद के प्रमुख ब्रिगेडियर (सेवानिवृत्त) पीके मुरलीधरन राजा ने कहा, यह बहुत गर्व और वीरता की बात है कि मुक्केबाजी में दो सर्वश्रेष्ठ मुक्केबाज आमने-सामने हैं।

दिल्ली में एक ऐतिहासिक प्रतियोगिता में, शीर्ष 10 भारतीय फेदरवेट अमेय नितिन और भारत के नंबर 1 बैंटमवेट सतनाम सिंह डब्ल्यूबीसी इंडिया फेदरवेट खिताब के लिए भिड़ेंगे।

यूनाइटेड प्रोफेशनल बॉक्सिंग के सह-संस्थापक अनिरुद्ध पाठक ने कहा, जब अमेय नितिन शुक्रवार को डब्ल्यूबीसी इंडिया फेदरवेट खिताब के लिए सतनाम सिंह से मुकाबला करेंगे, तो मुकाबला देखने लायक होगा। दोनों मुक्केबाजों ने प्रो पर अपने मजबूत जीत-हार के रिकॉर्ड के बावजूद बाधाओं के खिलाफ संघर्ष किया है।

27 वर्षीय अमेय ने बताया, मैं एक नगरपालिका स्कूल से पढ़ा हूं और एक ऐसे परिवार से आया, जहां खेल एक विलासिता था। अपने मुक्केबाजी करियर का समर्थन करने के लिए, मैंने अपना एमबीए पूरा किया और अपनी मुक्केबाजी जारी रखते हुए काम किया।

26 वर्षीय अमेय अपने मजबूत फॉर्म को बनाए रखने की कोशिश करेंगे, क्योंकि वह 126 पाउंड में डब्ल्यूबीसी घरेलू खिताब के लिए सतनाम सिंह का सामना करने के लिए तैयार हैं।

सतनाम ने कहा, जब मैंने पहली बार बॉक्सिंग शुरू की थी, तब मैं कक्षा 10 में था। अपने परिवार से वित्तीय सहायता प्राप्त करना कठिन होता था। लेकिन मैं मुकाबले के लिए तैयार हूं।

आईएएनएस